रंगदारी में मांगे थे दो लाख रुपए, नहीं देने पर एफसीआई कर्मी को गोलियों से भूना

रंगदारी में मांगे थे दो लाख रुपए, नहीं देने पर एफसीआई कर्मी को गोलियों से भूना

बाढ़। घोसवरी थाना क्षेत्र के रामनगर गांव में एक बार फिर अपराधियों का तांडव देखने को मिला जहां माओवादी स्टाइल में अपराधियों ने पहले घर पर पर्चा चिपका दो लाख की रंगदारी की मांग की रंगदारी नहीं देने पर एफसीआई कर्मचारी सरयुग महतो को गोलियों से भून दिया। गंभीर रुप से जख्मी सरयुग महतो को बेगूसराय में भर्ती कराया गया है। सरयुग महतो को  के शरीर पर एक गोली  लगी है  वही अपराधियों ने 3 राउंड फायरिंग की थी। इस घटना के बाद पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए दो लोगों को हिरासत में लिया है।

कर्मी के पोते का भी कर चुके हैं अपहरण

एफसीआई कर्मी से पैसे वसूलने की कोशिश का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी सरयुग महतो के पोते का अपहरण किया गया था। जिसमें पटना पुलिस ने सरयुग महतो के पोते को सकुशल बरामद कर लिया था उस मामले में 4 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था सभी लोग अभी जेल में ही बंद है। परिजनों ने बताया कि  इससे पूर्व  अपराधियों द्वारा उनके  दरवाजे पर  पर्ची चिपका कर पैसे की मांग की गई थी। परिजनों का आरोप है कि पुलिस इस मामले को रफा-दफा करने की कोशिश कर रही है।

गांव में खौफ का माहौल

एफसीआई कर्मी के साथ हुई घटना के बाद गांव में खौफ का माहौल है। यहां रहनेवाले लोगों का कहना है कि सरकार भले ही अपराधियों पर नकेल की कसरत कर रही है,लेकिन अपराधियों का खौफ कम नहीं हो रहा है। इस घटना के बाद घोसवारी थाने  की पुलिस लगातार छापामारी कर दो अपराधियों को दबोचने कामयाबी हासिल की है। फिलहाल गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ की जा रही है ।

Find Us on Facebook

Trending News