नामी स्कूल की हकीकतः सरकार ने 'ओपन माइंड्स-ए बिरला स्कूल' कंकड़बाग को नहीं दी NOC,स्कूल प्रबंधन सही कागजात नहीं सका पेश

नामी स्कूल की हकीकतः सरकार ने 'ओपन माइंड्स-ए बिरला स्कूल' कंकड़बाग को नहीं दी NOC,स्कूल प्रबंधन सही कागजात नहीं सका पेश

PATNA: बिहार के निजी स्कूल अभिभावकों से फीस के नाम पर जमकर उगाही करते हैं। बेचारा अभिभावक स्कूल प्रबंधन के दबाव में आकर मनमाना फीस जमा करता है। लेकिन पटना के निजी स्कूल मानक पर खरे नहीं उतरते। कई ऐसे स्कूल हैं जो सरकारी मानक के अनुरूप काम नहीं करते। बिहार की बात छोड़िए राजधानी पटना में भी बड़ी संख्या में प्राइवेट स्कूलों के पास संसाधन का घोर अभाव है। केंद्रीय बोर्ड से मान्यता के लिए निजी स्कूलों को पहले बिहार सरकार से अनापत्ति प्रमाण-पत्र लेना होता है। उसी में पटना के नामी स्कूल प्रबंधन की हकीकत सामने आती है। राजधानी का नामी स्कूल ओपन माइंड्स-ए बिरला स्कूल को भी सरकार ने एनओसी नहीं दिया। 


नामी स्कूल ने नहीं जमा किया कागजात

ओपन माइंड्स-ए बिरला स्कूल कंकड़बाग को शिक्षा विभाग ने एनओसी नहीं दिया. शिक्षा मंत्री विजय चौधरी की अध्यक्षता वाली कमेटी ने 35 स्कूलों को आईसीएसी-सीबीएसई बोर्ड से मान्यता के लिए एनओसी दिया लेकिन ओपन-माइंड्स-ए समेत 14 स्कूलों को एनओसी देने से मना कर दिया है. निजी स्कूलों को सीबीएसई या आईसीएससी की मान्यता लेने के लिए राज्य सरकार अनापत्ति प्रमाण पत्र देती है. शिक्षा मंत्री की अध्यक्षता वाली कमेटी ने एनओसी के लिए आवश्यक कागजात उपलब्ध रहने के कारण अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं दिया.

नहीं मिला एनओसी

 शिक्षा विभाग ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि विद्यालय प्रबंधन से प्राप्त प्रस्तावों की समीक्षा की गई. जिसमें ओपन माइंड्स-ए बिरला स्कूल कंकड़बाग का शपथ पत्र अनुपलब्ध था. साथ ही विद्यालय प्रबंध समिति की बैठक की कार्यवाही भी उपलब्ध नहीं था। ऐसे में एनओसी दिया जाना संभव नहीं था. इसके बाद प्रस्ताव को स्थगित रखने का निर्णय लिया गया. अब संबंधित विद्यालय वांछित कागजात विभाग को उपलब्ध कराएंगे. इसके बाद अगली बैठक में उस पर विचार होगा.

Find Us on Facebook

Trending News