RJD-JDU का विलय होना निश्चित, RCP सिंह ने बताया कि नीतीश कुमार क्यों करेंगे ऐसा

RJD-JDU का विलय होना निश्चित, RCP सिंह ने बताया कि नीतीश कुमार क्यों करेंगे ऐसा

PATNA : बिहार की राजनीति में लगातार यह खबर आ रही है कि जदयू और राजद का आपस में विलय हो जाएगा। अब जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने भी इन चर्चाओं को नई बात कह दी है। जदयू और नीतीश कुमार को बेहद करीब  से समझनेवाले आरसीपी ने कहा कि नीतीश कुमार निश्चित तौर पर राजद के साथ जदयू का विलय कर देंगे। क्योंकि, वह नेता के तौर पर तेजस्वी यादव को स्टेबलिश कर रहे हैं। जदयू में किसी नेता को आगे नहीं बढ़ा रहे हैं।  यह बताता है कि जदयू और तेजस्वी का विलय निश्चित है। उक्त बातें उन्होंने मुजफ्फरपुर में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कही । 

जदयू में कोई चेहरा नहीं,  जिसे आगे बढ़ाए

आरसीपी सिंह से जब यह सवाल पूछा गया कि तेजस्वी यादव को नीतीश कुमार आगे कर रहे हैं, तो उन्होंने कहा, यह नीतीश कुमार ही कर सकते हैं। उनकी पार्टी का नाम है जनता दल यूनाइटेड। उसमें कोई भी ऐसा नेता नहीं है, जिसको आगे किया जाए। तो सहयोगी दल राजद के जो नेता हैं तेजस्वी यादव, उनको आगे कर रहे हैं।

तेजस्वी के बिना नीतीश कुमार जीरो हो जाएंगे

साल 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर आरसीपी सिंह ने कहा कि अगर नीतीश कुमार अकेले लड़ेंगे महागठबंधन ग्रुप से, तो जीरो बटा सन्नाटा भी नही मिलेगा। यह पूरी तरह से राजद के साथ मर्ज कर जाएंगे तो कुछ सीटें मिल जाएंगी। 2020 में तीन मुख्यमंत्री के उम्मीदवार थे। 

तेजस्वी कैसे होंगे खुश

NDA की तरफ से नीतीश कुमार थे, महागठबंधन की तरफ से तेजस्वी यादव थे और उपेंद्र कुशवाहा भी मुख्यमंत्री के उम्मीदवार थे। लेकिन, आज तीनों एक जगह पहुंच गए। आप समझ सकते हैं, सभी ये लोग कुंठित होंगे।

कहा कि नीतीश कुमार को तो अच्छा लगता है कि 45 विधायक में वह मुख्यमंत्री हैं। लेकिन, तेजस्वी यादव को तो अच्छा नहीं लगता होगा। सबसे ज्यादा विधायक होने के बावजूद वह मुख्यमंत्री नहीं हैं।



Find Us on Facebook

Trending News