तेजस्वी यादव ने बिहार के 'कप्तान' जगदा बाबू को किताब के पन्नों पर भी छपने के लायक नहीं समझा,यहां भी परिवारवाद ही हुआ आबाद

तेजस्वी यादव ने बिहार के 'कप्तान' जगदा बाबू को किताब के पन्नों पर भी छपने के लायक नहीं समझा,यहां भी परिवारवाद ही हुआ आबाद

पटनाः तेजस्वी यादव ने पार्टी के बिहार कप्तान को किताब में भी जगह नहीं दी। पहले स्टार प्रचारकों की लिस्ट में मीसा भारती से भी नीचे जगह दी, इसके बाद घोषणा पत्र में तो शुभकामना देने वाली हैसियत में भी नहीं रखा। बिहार में चुनाव हो रहे और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह को ही चलता कर दिया गया। प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पार्टी के बीतर कायदे-कानून लागू करते रह गए और तेजस्वी यादव ने उन्हें घोषणा पत्र में  शुभकामना देने लायक भी नहीं समझा।

 जगदा बाबू को किताब के पन्नों पर भी छपने के लायक नहीं समझा

दरअसल तेजस्वी यादव ने आज 2020 चुनाव का घोषणा पत्र जारी किया।घोषणा पत्र जारी करते समय प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद बाबू को जरूर बुलाया गया लेकिन तेजस्वी ने जिस प्रण पत्र को जारी किया उसमें सिर्फ लालू परिवार को ही जगह मिली।  राजद के घोषणा पत्र में सुप्रीमो लालू प्रसाद और राबड़ी देवी का संकल्प का आलेख एक-एक पेज में छपी है।लेकिन बिहार प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह को संकल्प पत्र में कोई स्थान नहीं मिला। शुरूआत में लालू-राबड़ी का संकल्प है और अंत के पेज पर तेजस्वी यादव का प्रण है। बीच में 17 प्वाइंट्स में सत्ता में आने पर तेजस्वी यादव जो काम करेंगे उसका वर्णन है। 

बता दें कि राजद ने कुछ दिन पहले स्टार प्रचारकों की सूची जारी की थी। सूची में राबड़ी देवी,तेजस्वी यादव,तेजप्रताप यादव,मीसा भारती और उसके नीचे प्रदेश के अध्यक्ष जगदानंग सिंह को रखा गया था। 

Find Us on Facebook

Trending News