जदयू की नई राजनीतिक कवायद, सवर्ण प्रकोष्ठ का किया गठन, डॉ. नीतीश कुमार टनटन को बनाया प्रदेश अध्यक्ष

जदयू की नई राजनीतिक कवायद, सवर्ण प्रकोष्ठ का किया गठन, डॉ. नीतीश कुमार टनटन को बनाया प्रदेश अध्यक्ष

PATNA : बिहार विधानसभा चुनाव के बाद जनता दल यूनाइटेड की ओर से अपने संगठन को मजबूत करने पर लगातार जोर दिया जा रहा है. इसी कड़ी में कार्यकर्ताओं को बूथ स्तर तक मजबूत करने का प्रयास किया जा रहा है. वहीँ बिहार के राजनीतिक इतिहास में एक नया प्रयोग भी किया गया है. जदयू ने सवर्णों के लिए पहली बार  सवर्ण प्रकोष्ठ का गठन किया है. 

विधानसभा चुनाव के दौरान पिछड़ा, अति पिछड़ा और सवर्ण गठजोड़ ने जदयू सहित एनडीए को वोट देकर समर्थन किया था. वह जल्दी नेतृत्व के जेहन में पहले से है. यही कारण है की जनता दल यूनाइटेड ने डॉ नितीश कुमार टनटन जो जहानाबाद जिले के काको प्रखंड स्थित हाटी गांव के रहने वाले हैं. उन्हें जदयू सवर्ण प्रकोष्ठ का प्रदेश अध्यक्ष बनाया है. 

बताते चलें कि डॉ नितीश कुमार टनटन समता पार्टी के गठन वर्ष 1994 से लेकर आज तक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में एक कार्यकर्ता के रूप में लंबे समय से कार्य करते रहे हैं. इसके पहले नीतीश कुमार टनटन समता पार्टी के पटना विश्वविद्यालय अध्यक्ष, युवा जदयू के प्रदेश महासचिव, उपाध्यक्ष सह प्रवक्ता के साथ वर्तमान सरकार द्वारा पटना विश्वविद्यालय के सीनेट, सिंडिकेट सदस्य हैं. डॉक्टर नीतीश कुमार टनटन नेट और नक्सल समस्या पर पीएचडी किए हुए हैं. साथ की उनके कई आलेख भी राज्य और राष्ट्रीय जर्नल में प्रकाशित है. उनके मनोनयन से युवाओं में जोश का संचार हुआ है.

Find Us on Facebook

Trending News