मुंबई और पुणे से आये बिहारियों की हुई स्क्रीनिग, संदिग्ध पाए गए 24 यात्री

मुंबई और पुणे से आये बिहारियों की हुई स्क्रीनिग, संदिग्ध पाए गए 24 यात्री

PATNA : रविवार को मुंबई एवं पूणे से विशेष ट्रेन के माध्यम से दानापुर रेलवे स्टेशन उतरे पैसेंजरों का खगौल स्थित रेलवे उच्च विद्यालय में स्क्रीनिंग किया गया. कार्य के सफल एवं सुचारु संपादन सुनिश्चित कराने हेतु जिलाधिकारी कुमार रवि द्वारा पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी की तैनाती की गई थी. इस कार्य में 65 डॉक्टर, 80 जीएनएम /एएनएम /पारा मेडिकल स्टाफ , 10 स्वास्थ्य प्रबंधक , 10 सामुदायिक उत्प्रेरक सहित कई अन्य विभागों के योग्य एवं कर्मठ कर्मी को लगाया गया. 

जिलाधिकारी स्वयं कार्यस्थल पर मौजूद रहकर दिन भर मॉनिटरिंग करते रहे. जिला प्रशासन द्वारा सभी पैसेंजरों को दानापुर स्टेशन से खगौल उच्च विद्यालय तक लाने एवं स्क्रीनिंग के उपरांत उन्हें सुरक्षित घर भेजने हेतु 55 नि:शुल्क बस की व्यवस्था की गई थी. इन बसों से स्क्रीनिंग के उपरांत यात्रियों को सुरक्षित रूप से उनके गंतव्य के लिए भेजा गया. खगौल स्थित रेलवे उच्च विद्यालय में कुल 17 कमरों में स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई थी. 

कुल 3990 पैसेंजर की स्क्रीनिंग की गई. जिसमें 24 यात्री संदिग्ध पाए गए. जिन्हें आगे की जांच हेतु स्थानीय अनुमंडल अस्पताल दानापुर एवं नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेजा गया है. कार्य की समाप्ति के उपरांत जिलाधिकारी एवं वरीय पुलिस अधीक्षक ने संयुक्त ब्रीफिंग करते हुए इस कार्य में संलग्न सभी अधिकारियों एवं कर्मियों के टीम वर्क तथा उनके योगदान, समर्पण एवं निष्ठा की सराहना की. 

साथ ही जानकारी देते हुए बतलाया कि 23 मार्च को पुनः दो ट्रेन दानापुर स्टेशन आएगी. जिनके पैसेंजर की स्क्रीनिंग इसी विद्यालय में संपन्न होगी. इसलिए सभी अधिकारियों एवं कर्मियों को पुनः 23 मार्च को पूरी जवाबदेही एवम निष्ठा से कार्य करने का निर्देश दिया. 

पटना से अनिल कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News