शरद यादव की अगुवाई में आयोजित बैठक से राजद -कांग्रेस ने बनाई दूरी, चुनावी साल में हो सकता है कोई सियासी खेला

शरद यादव की अगुवाई में आयोजित बैठक से राजद -कांग्रेस ने बनाई दूरी, चुनावी साल में हो सकता है कोई सियासी खेला

पटना :  चुनाव के पहले ही महागठबंधन में रार मचना शुरू हो गया. आरजेडी नेता शरद यादव की अगुवाई में आज  महागठबंधन की पार्टियों ने एक मीटिंग की है. इस मीटिंग में रालोसपा चीफ उपेन्द्र कुशवाहा, हम पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व सीएम जीतन राम मांझी, वीआईपी के मुखिया मुकेश सहनी ने आज शरद यादव से मुलाकात की.

सबसे अहम बात है कि शरद यादव की इस मीटिंग में आरजेडी और कांग्रेस के कोई नेता शामिल नहीं हुए. कांग्रेस और आरजेडी ने शरद की होटल में बैठक से दूरी बना ली.

महागठबंधन की पार्टियां लगतार तेजस्वी के नेतृत्व में विधानसभा का चुनाव लड़ने से बचते दिख रही हैं. मांझी ने तो कई बार साफ तौर पर तेजस्वी के अनुभव पर भी सवाल उठाया है. वहीं उपेन्द्र कुशवाहा को भी कई मोर्चे पर तेजस्वी का साथ नहीं मिला है.

जेडीयू से निकाले जाने के बाद शरद यादव ने अपनी अलग पार्टी बनाई थी, लेकिन लोकसभा में जाने की चाह को लेकर लालू दरबार में हाजिरी लगाने के बाद वो लालटेन के सिंबल पर चुनाव लड़े. चुनाव में करारी शिकस्त मिलने के बाद शरद यादव ने बिहार से दूरी बना ली लेकिन विधानसभा का आगामी चुनाव देखते हुए एक बार फिर से शरद यादव एक्टिव दिख रहे हैं.

पटना से देवांशु प्रभात की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News