तो इस वजह से पीएम मोदी से नहीं मिल रहे हैं सीएम नीतीश ... तेजस्वी को आगे बढ़ाने की बातें फिर साबित हुई गलत

तो इस वजह से पीएम मोदी से नहीं मिल रहे हैं सीएम नीतीश ... तेजस्वी को आगे बढ़ाने की बातें फिर साबित हुई गलत

पटना. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का बार बार नहीं मिलना कई सवालों को जन्म देता है. लेकिन इसे लेकर नीतीश कुमार ने बुधवार को बड़ा खुलासा किया. उन्होंने एक कार्यक्रम में शामिल होने के दौरान बताया कि आखिर क्या वजह है कि वे 30 दिसम्बर को पीएम मोदी के कार्यक्रम में तेजस्वी यादव को भेज रहे हैं. दरअसल, हाल ही में जब जी-20 की बैठक में पीएम मोदी से मिलने की बारी आई तो नीतीश कुमार उस बैठक में नहीं गए. अब कोलकाता में नमामि गंगे से जुड़े एक कार्यक्रम में पीएम मोदी आ रहे हैं. इसमें नीतीश कुमार के बदले बिहार का प्रतिनिधित्व बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव करेंगे. 30 दिसम्बर को होने वाले इस कार्यक्रम में नीतीश कुमार के बदले तेजस्वी के जाने से राजनीतिक गलियारों में कई प्रकार की चर्चा है. इसमें यह भी कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार अब प्रमुख कार्यक्रमों में तेजस्वी को आगे बढ़ाकर अपने उस वक्तव्य को सच कर रहे हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि वर्ष 2025 के बिहार विधानसभा चुनाव में तेजस्वी यादव प्रतिनिधित्व करेंगे. 

हालांकि इन तमाम अटकलबाजियों पर अब नीतीश कुमार ने विराम लगा दिया है. उन्होंने कहा कि यह कोई पहला मौका नहीं है जब नमामि गंगे से जुड़े कार्यक्रम में बिहार के उप मुख्यमंत्री राज्य का प्रतिनिधत्व कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस तरह की किसी भी मीटिंग में मैं सम्मिलित नहीं हुआ था. पहले भी डिप्टी सीएम गए थे आज भी डिप्टी सीएम गए हैं. जब एनडीए के साथ सरकार थी और सुशील मोदी उप मुख्यमंत्री थे तब वे गए थे. अब तेजस्वी यादव जा रहे हैं. वहीं दिल्ली में प्रधानमंत्री के साथ जो मीटिंग हुई थी उसमें हम शामिल हुए थे. उन्होंने कहा कि बात करने वाले लोग तरह-तरह की बात करते रहते हैं. गंगा नदी को लेकर क्या कुछ काम करना है इस पर बात करेंगे और क्या कुछ करना है वह हम पहले से कर रहे हैं. 

नीतीश कुमार के इस बयान से स्पष्ट है कि वे तेजस्वी को आगे बढ़ाने जैसी कोई पहल नहीं कर रहे हैं. यानी जैसे पहले उप मुख्यमंत्री रहते सुशील मोदी ऐसी बैठकों में जाते थे वैसे ही अब तेजस्वी जा रहे हैं. हालांकि इसके पहले भी जी-20 से जुडी एक बैठक में नीतीश कुमार नहीं गए थे. बाद में इसी से सम्बद्ध एक ऑनलाइन बैठक में उन्होंने राज्य का प्रतिनिधित्व किया था. 

उन्होंने साफ तौर पर कहा कि जिसके पास जो विभाग है वही मंत्री उससे जुडी बैठकों में जाते हैं. इसलिए तेजस्वी यादव ही नमामि गंगे से जुड़े कार्यक्रम में शामिल हो रहे है.


Find Us on Facebook

Trending News