बिहार लौटते ही सुपर कॉप शिवदीप लांडे को मिली यह बड़ी जिम्मेदारी, इन विभाग के बनाए गए डीआईजी

बिहार लौटते ही सुपर कॉप शिवदीप लांडे को मिली यह बड़ी जिम्मेदारी, इन विभाग के बनाए गए डीआईजी

PATNA : पांच साल बाद केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटे आईपीएस अधिकारी और सुपर कॉप के नाम से चर्चित शिवदीप लांडे को डीआईजी (प्रशासन) की जिम्मेवारी सौंपी गई है। पुलिस मुख्यालय ने प्रतिनियुक्ति का आदेश जारी कर दिया है। बता दें कि बुधवार को ही लांडे ने पुलिस मुख्यालय में योगदान दिया था। पदस्थापना की प्रतीक्षा में रहे शिवदीप लांडे को डीआईजी (प्रशासन) के पद पर प्रतिनियुक्त किया गया है। 

शिवदीप वामनराव लांडे (Shivdeep Wamanrao Lande) जब बिहार में एसटीएफ के एसपी के पद पर तैनात थे। तब उनका तबादला महाराष्ट्र कैडर (Shivdeep Lande Transferred to Maharashtra Cadre) के लिए हो गया था. 14 नवंबर 2016 को शिवदीप लांडे को बिहार सरकार ने महाराष्ट्र  भेज दिया था। महाराष्ट्र में इस आईपीएस अधिकारी को सबसे पहले महाराष्ट्र पुलिस के क्राइम ब्रांच में काम करने का मौका मिला और बाद में प्रोन्नति पाकर भी एटीएस में डीआईजी के पद तक पहुंचे। महाराष्ट्र में पांच साल गुजारने के बाद कुछ दिन पहले ही उन्हें वापस बिहार भेजने का आदेश जारी किया गया था। पटना लौटने के बाद इस बात का इंतजार किया जा रहा था कि डीआईजी बन चुके लांडे को कौन सी जिम्मेदारी दी जाती है। 

बिहार के सबसे चर्चित एसपी के रूप में मिली है पहचान

शिवदीप लांडे बिहार के उन चर्चित आईपीएस में रहे हैं, जिन्हें उन जिलों में भी पहचान मिली है, जहां उन्होंने कभी ड्यूटी नहीं की है। लांडे पटना (Patna) में सिटी एसपी रहने के अलावा अररिया और रोहतास में भी पुलिस अधीक्षक रह चुके हैं. वे बिहार के राज्यपाल के एडीसी के पद पर भी रहे थे। बिहार में उनकी सबसे पहली पोस्टिंग मुंगेर के नक्सल प्रभावित क्षेत्र जमालपुर में हुई थी। राजधानी पटना के एसपी के तौर पर अपनी अनोखी कार्यशैली की वजह से शिवदीप पूरे देश में मशहूर हो गए।


Find Us on Facebook

Trending News