राहुल की रैली से दूरी बना सकते हैं तेजस्वी, जन आकांक्षा रैली में अनंत सिंह की मौजूदगी से बिगड़ सकती है बात

PATNA : बाहुबली निर्दलीय विधायक अनंत सिंह अब खुलकर कांग्रेस के पाले में आ गए हैं। भले ही अनंत सिंह की कांग्रेस में ऑफिशियल एंट्री नहीं हुई हो लेकिन वह जन आकांक्षा रैली को सफल बनाने के लिए रोड शो कर रहे हैं। बिहार कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष अखिलेश सिंह के साथ अनंत सिंह का रोड शो में उतरने के बाद यह तय हो गया है कि मोकामा विधायक 3 फरवरी की रैली में भी शामिल  होंगे। 

अनंत की एंट्री से बिगड़ सकता है जायका

जनाकांक्षा रैली को सफल बनाने के लिए कांग्रेस भले ही अनंत सिंह को साथ ले रही हो लेकिन इस बात की भी पूरी संभावना है कि अनंत की एंट्री से रैली का जायका बिगड़ सकता है। अनंत सिंह के नाम पर आरजेडी पहले से सख्त एतराज रहा है। ऐसे में राहुल गांधी की रैली में बाहुबली विधायक के आने से आरजेडी की त्योरी चढ़ना तय है। 

तेजस्वी बना सकते हैं दूरी ?

कांग्रेस के रोड शो में अनंत सिंह के शामिल होने के बाद आरजेडी के कान खड़े हो गए हैं। तेजस्वी यादव के करीबी सूत्र बता रहे हैं कि नेता प्रतिपक्ष ने राहुल गांधी की रैली में शामिल होने पर सहमति दे दी गई लेकिन अनंत सिंह की एंट्री के बाद स्थितियां बदल सकती हैं। हालांकि आरजेडी को अभी भी लगता है कि कांग्रेस अनंत सिंह को रैली में जगह नहीं देगी। उसके मुताबिक कांग्रेस अनंत सिंह का इस्तेमाल केवल रैली में भीड़ जुटाने के लिए ही करेगी। इस सबके बावजूद अगर अनंत सिंह को राहुल गांधी के मंच पर जगह मिली तो तेजस्वी यादव रैली से किनारा कर लेने में भी नहीं हिचकिचाएंगे। तेजस्वी ये सख्त कदम इसलिए भी उठा सकते हैं क्योंकि पिछले विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी ने अनंत सिंह को कोसकर ही अपने वोटरों को गोलबंद किया था। महागठबंधन में जारी यह अनंत पेंच कब खत्म होगा इसका इंतजार सभी को है।

Find Us on Facebook