मृत डॉक्टर को सिविल सर्जन बनाने का मामला बिहार विधानसभा में उठा, RJD ने कहा-स्वास्थ्य विभाग का कारनामा उजागर

मृत डॉक्टर को सिविल सर्जन बनाने का मामला बिहार विधानसभा में उठा, RJD ने कहा-स्वास्थ्य विभाग का कारनामा उजागर

पटनाः बिहार विधानसभा की कार्यवाही के दौरान मृत डॉक्टर को सिविल सर्जन के पद पर पदस्थापित किये जाने का मामला विधानसभा में उठा। जैसे ही शून्यकाल शुरू हुआ राजद विधायक राकेश रौशन ने सदन में यह मामला उठाया और कहा कि यह गंभीर इश्यू है।

विधानसभा में उठा मामला

राजद विधायक ने सदन में आरोप लगाया कि बिक्रमगंज के चिकित्सा पदाधिकारी रहे रामनारायण राम का निधन हो गया है . स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को जो आदेश जारी किया है उसमें मृतक को शेखपुरा का सिविल सर्जन बना दिया है। यह एक गंभीर इश्यू है । स्वास्थ्य विभाग की पूरी तरह से पोल खुल गई है। सरकार इस पर सफाई दे। 

मरने बाद बनाया सिविल सर्जन

बता दें, रोहतास के बिक्रमगंज पीएचसी में पदस्थापित चिकित्सक डॉ. रामानारायण राम का निधन फऱवरी महीने में ही हो गया है।इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की तरफ से 8 मार्च को शेखपुरा का सिविल सर्जन बनाने की अधिसूचना जारी की गई है।

Find Us on Facebook

Trending News