अनिश्चित कालीन हड़ताल पर गए बिहार के निकायकर्मी, स्थायी करने सहित सरकार से मांगी 11 सूत्री मांगे

अनिश्चित कालीन हड़ताल पर गए बिहार के निकायकर्मी, स्थायी करने सहित सरकार से मांगी 11 सूत्री मांगे

PATNA : दैनिक कर्मियो को स्थायी करने, न्यूनतम मासिक वेतन 18000-21000 करने, समान काम का सम्मान वेतन लागू करने सहित ग्यारह सूत्री मांगो को लेकर आज से पूरे बिहार के निकायकर्मी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गये। हड़ताल बिहार लोकल बौडीज कर्मचारी संघर्ष मोर्चा, बिहार स्थानीय निकाय कर्मचारी महासंघ  के आह्वान पर किया गया है। 


मिली जानकारी के अनुसार पटना,गया,बक्सर,आरा ,नालन्दा,नवादा, बेगूसराय ,मुंगेर,वैशाली,दरभंगा कटिहार,मुजफ्फरपुर,पश्चिम्मी और पूर्वी चम्पारण सहित पूरे बिहार के नगर निगम,नगर परिषद,नगर पंचायत के कर्मी हड़ताल मे शामिल हैं। पटना नगर निगम के कर्मी सुबह से ही विभिन्न अंचलों मे इकट्ठा होकर प्रदर्शन कर रहे थे।कंकड़बाग अंचल में मोर्चा के प्रवक्ता जितेन्द्र कुमार,के साथ ही संतोष कुमार,रितेश,के नेतृत्व मे,बांकीपुर अंचल में मुकेश ठाकुर,सतीश नारायण मिश्र के नेतृत्व में,पाटलीपुत्र अंचल में समन्वय समिति के संयोजक मँगल पासवान,सुजित पासवान भीम राम के नेतृत्व में,जलापूर्ति शाखा में चन्दन कुमार,देवेन्द्र प्रसाद के नेतृत्व में,नूतन राजधानी अंचल मे दुर्गा गोंड,नीतीश कुमार के नेतृत्व में,सिटी और अजिमाबाद अंचल में रामदेव राम,निरज वर्मा,धरमवीर के नेतृत्व में हड़ताली मजदूर कर्मचारीयो ने प्रदर्शंंन किया। 

पटना नगर निगम मुख्यालय मौर्यलोक पर पटना नगर निगम संयुक्त कर्मचारी समन्वय समिति के बैनर तले हड़ताली कर्मचारियो ने आम सभा किया। सभा की अध्यक्षता करते हुए मोर्चा के अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश सिंह ने कहा कि हमने कोई नया मांग नहीं रखा है। 2021को भी दैनिक मजदूर के स्थायी करने ,न्यूनतम मजदूरी 18000-21000,समान काम का समान वेतन लागू करने सहित ग्यारह सुत्री मांगो को लेकर हड़ताल किए थे। सरकार हड़ताल से घबराकर न्यायालय में चली गयी थी। हमने न्यायालय का सम्मान करते हुए हड़ताल स्थगित कर दिया। सरकार ने उसका बेजा लाभ उठाया तो हमें मजबूरन हमे हड़ताल मे जाना पड रहा है। 

बिहार स्थानिय निकाय कर्मचारी महासंघ के महासचिव श्यामलाल प्रसाद ने कहा सरकार हस्तक्षेप कर मामले पर सहानुभूति पुर्वक विचार कर कर्मियो प्रतिनिधियो से वार्ता कर  हड़ताल तोड़वाने का प्रयास करे। बिहार  लोकल बौडीज ईम्प्लोयेएज फेडरेशन के अध्यक्ष शिववचन शर्मा ने कहा की निकाय के दैनिक मजदूरों का स्थायी करन सरकार कर देती है तो 10लाख नौकरी की वादा की शुरुआत और आरक्षण का प्रावधान निकाय से ही शुरु हो जायेगा। प्रवक्ता जितेन्द्र कुमार ने कहा की नगर विकास मन्त्री से उम्मीद है की समाज के सबसे निचले पायदान के लोग ही नगर निकाय मे काम करते है, मन्त्री  उनके समस्याओ का समाधान करेंगे। सभा को रामयत्न प्रसाद,मुकेश ठाकुर,उर्मिला देवी,दुर्गा गोंड मोहन पासवान,भीम राम,चन्दन कुमार,देवेन्द्र प्रसाद ने सम्बोधित किया। बिहार के  विभिन्न निकायों में हड़ताल का नेतृत्व अमृत प्रसाद,अशोक प्रसाद सिंह,शशिकान्त मिश्र,दिलिप मल्लिक,अब्दुल सतार,अशोक राय,ब्रह्मदेव महतो,पप्पू महतो,चन्द्रकिशोर सिंह,गणेश प्रसाद सिंह आदि कर रहे हैं।  

पटना से अनिल कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News