गोल्ड मेडलिस्ट दूल्हे ने दुल्हन के सामने रखी ऐसी शर्त सुहागरात की रात ही तलाक तक पहुंच गया मामला

गोल्ड मेडलिस्ट दूल्हे ने दुल्हन के सामने रखी ऐसी शर्त सुहागरात की रात ही तलाक तक पहुंच गया मामला

JAMSHEDPUR : किसी नए जोड़े के लिए उसके सुहागरात की रात यादगार होती है। जहां नए पति – पत्नी अपने आनेवाले भविष्य को लेकर सपने संजोते हैं, लेकिन झारखंड के जमशेदपुर में एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां सुहागरात की रात ही नए जोड़े के बीच मामला तलाक तक पहुंच गया। यहां मामला न तो दहेज से जुड़ा था, न प्रेम, न जबरना शादी का, नए जोड़े में भी एक दूसरे को लेकर शिकायत नहीं थी। लेकिन इसके बाद भी शादी के बाद दोनों एक दिन भी साथ नहीं रहे और अब मामला तलाक तक पहुंच गया।

मामला पूर्वी सिंहभूमि के पोटका थाना इलाके का है। एक गांव की निवासी पल्लवी की शादी 18 जून 2018 को परसुडीह के जयमाल मंडल के साथ हिन्दु रीति रिवाज के साथ हुई थी। जयमाल गोल्ड मेडलिस्ट छात्र रहा है और अभी लखनउ में सिटी युनिनयन बैंक में असिस्टेंट मैनेजर है। उसकी इसी काबलियत को देखते हुए पल्लवी की शादी उससे की गई। पल्लवी के परिवार को उम्मीद थी कि वह अपनी इकलौती बेटी की जिंदगी बेहतर कर रहे हैं। लेकिन, हुआ इसके ठीक विपरीत।

पत्नी को कहा- IAS बनो तो चलेगा रिश्ता

दरअसल, शादी की पहली रात ही दूल्हे ने अपनी पत्नी के सामने एक अनोखी शर्त रख दी। दूल्हे ने युवती को कहा कि वह दो साल में आईएएस बनकर दिखाए, तो यह शादी चलेगी, वर्ना दोनों पति पत्नी नहीं रहेंगे। पल्लवी को पति की यह बात मजाक लगी। लेकिन शादी की अगली सुबह जयमाल इंटरव्यू का बहाना बनाकर वापस लखनऊ चला गया। जिसके बाद अब तक लौटकर वापस नहीं आया।


शादी के बाद कभी नहीं किया फोन, भेजा तलाक पेपर

पल्लवी बताती है कि जयमाल ने उसके बाद उसे एक बाद फोन तक नही किया। कभी पल्लवी ने कोशिश की तो उसने बात नही की। माता पिता की इज्जत का खयाल करते उसने यह बात सबसे छिपाई। पति के बहकावे में आकर ससुराल वाले भी उसे ताना देने लगे। इसी बीच कोर्ट में तलाक के लिए अर्जी दाखिल कर दिया। यह जानकर पल्लवी काफी आहत हो गयी। 

पति को दिलाना चाहती है सजा

तलाक की नोटिस मिलने के बाद पल्लवी काफी तनाव में है। शादी के तीन साल हो गये लेकिन पति ने उसे पत्नी का दर्जा अबतक नही दिया। वह पढ़ाई कर रही है ताकि अपना मुकाम हासिल कर सके। लेकिन अब वह अपने पति को सजा भी दिलाना चाहती है।

दामाद ने बर्बाद कर दी बेटी की जिंदगी

पल्लवी के पिता प्रदूत मंडल बताते हैं कि पल्लवी उनकी एक मात्र बेटी है। जयमाल गोल्ड मेडलिस्ट है और बैंक में पदाधिकारी है। यह जानकर पल्लवी की उसके साथ शादी कर दी गयी। लेकिन दामाद ने बेटी जिन्दगी बिगाड़ दी। उनका कहना था कि शादी में जो सामान दिया था वह भी उनके घर पर ही पड़ा हुआ है। वे चाहते हैं कि दोनो की जिन्दगी बस जाए और दोनो साथ रहें।

Find Us on Facebook

Trending News