भागकर रचाई शादी, लेकिन पत्नी के प्रेग्नेंट होने पर इतना मारा कि जच्चा-बच्चा दोनों की मौत

भागकर रचाई शादी, लेकिन पत्नी के प्रेग्नेंट होने पर इतना मारा कि जच्चा-बच्चा दोनों की मौत

JAMUI :  प्रेम विवाह में विश्वास रखनेवाले लोगों के लिए यह खबर चौंकानेवाली है। यहां एक प्रेमी पहले प्रेमिका को लेकर भाग जाता है, फिर उससे शादी रचाता है। यहां तक दोनों के बीच सबकुछ ठीक होता है, लेकिन जैसे ही प्रेमिका से पत्नी बनी युवती गर्भवती होती है। युवक का प्रेम खत्म हो जाता है। हालत यह हो जाती है कि गुस्से में युवक प्रेग्नेंट पत्नी की इतनी पिटाई करता है कि पेट में पल रहे बच्चे के साथ युवती की भी मौत हो गई। युवती उस समय सात माह की गर्भवती थी।

प्रेम, शादी और फिर हत्या की यह कहानी जमुई जिले से जुड़ा हुआ है। बताया जाता है कि लखीसराय जिले के चानन थाना अंतर्गत भंडार गांव निवासी राजकुमार ठाकुर की 17 वर्षीय नाबालिग पुत्री जिले के झाझा प्रखंड अंतर्गत सोहजाना गांव स्थित अपने नानी घर में रहती थी. उसके गांव के ही शिवदानी ठाकुर का पुत्र रविंद्र ठाकुर से उसकी आंखें चार हुईं. दोनों का प्यार परवान चढ़ने लगा.

घर से भागकर रचाई शादी

इस साल छह फरवरी को दोनों परिवार की मर्जी के खिलाफ जाते हुए घर से भाग गए। बाद में दोनों ने शादी कर ली और लुधियाना में साथ साथ रहने लगे। गड़बड़ी तब हुई, जब दोनों के बीच एक बच्चा आ गया। 17 साल की उम्र में युवती गर्भवती हो गई। जबकि युवक इसके लिए तैयार नहीं था। नतीजा यह हुआ कि दोनों के बीच प्रेम की जगह हर दिन झगड़ा होने लगा। आरोप है कि पत्नी के गर्भवती होने के बाद रविंद्र उसके साथ मारपीट और प्रताड़ित करता था.

अचानक 15 नवंबर को 7 माह की गर्भवती पत्नी को शहर के कचहरी चौक स्थित उसके बुआ के घर के बाहर छोड़कर फरार हो गया. उसकी हालत गंभीर होने पर परिजनों ने उसे शहर के एक निजी क्लीनिक में भर्ती कराया. शुक्रवार की सुबह उसकी हालत गंभीर होने लगी तो उसे बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया. यहां उपचार के दौरान जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो गई.

मौत के बाद मृतका के पिता राजकुमार ठाकुर ने आरोपी रविंद्र ठाकुर तथा उसके भाई पर मारपीट कर हत्या करने का आरोप लगाते हुए स्थानीय थाने में आवेदन दिया है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है


Find Us on Facebook

Trending News