बिहार सरकार के मंत्री को ग्रामीणों ने सुनाई खरी-खोटी, बैरंग लौटे मंत्री श्रवण कुमार

बिहार सरकार के मंत्री को ग्रामीणों ने सुनाई खरी-खोटी, बैरंग लौटे मंत्री श्रवण कुमार

SHEKHPURA : शेखपुरा में ग्रामीण उस समय उग्र हो गए हैं। जब एक व्यक्ति विशेष के पक्ष में अचानक मंत्री गांव पहुंच गए। जिसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया और ग्रामीणों ने मंत्री को खरी-खोटी सुना दिया। मामला शेखपुरा सदर प्रखंड के कोसरा पंचायत अंतर्गत जीयनबीघा गांव का है। जहाँ बिहार सरकार के ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार अपने दल बल के साथ कोसरा पंचायत के जियान बीघा गांव पहुंचे। 

मंत्री के गांव पहुंचते ही ग्रामीण उग्र हो गए और मुखिया के खिलाफ जमकर नारेबाजी किया। साथ ही मंत्री को भी खरी-खोटी सुनाया। ग्रामीणों का आरोप है कि 10 वर्षों के दौरान पंचायत और गांव में विकास का कार्य नहीं किया गया। ग्रामीणों का यह भी आरोप है कि मंत्री एक व्यक्ति विशेष प्रत्याशी के पक्ष में गांव भ्रमण करने पहुंचे। जिसको लेकर ग्रामीणों ने मंत्री का भी विरोध किया है।

वही इस संबंध में ग्रामीण कार्य विभाग के मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि अपने निजी काम से जदयू के पूर्व जिला अध्यक्ष डॉक्टर अर्जुन प्रसाद की धर्मपत्नी का कुशल क्षेम जानने पहुंचे हैं। जबकि इस गांव से भी काफी लगाव है इसलिए यहां अचानक पहुंच गए है। वही ग्रामीणों के विरोध को देखते हुए मंत्री जल्द ही गांव से चले गए। जबकि मंत्री ने कई बार ग्रामीणों से शांति बरते जाने की अपील किया। लेकिन ग्रामीण लगातार स्थानीय मुखिया निवास सिंह का विरोध कर रहे थे।

शेखपुरा से दीपक कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News