लालू और नीतीश के शासन में यह है फर्क, कल जनता थी त्रस्त, आज अपराधी मांग रहे पनाह : ललन सिंह

लालू और नीतीश के शासन में यह है फर्क, कल जनता थी त्रस्त, आज अपराधी मांग रहे पनाह : ललन सिंह

PATNA : पति-पत्नी और नीतीश कुमार के शासन में सबसे बड़ा फर्क यह है कि उनके शासन काल में जनता त्रस्त और घरों के अंदर रहने को मजबूर थी, आज अपराधी बिलों के अंदर छुपने को मजबूर है। यह कहना है जदयू के वरिष्ठ नेता व बिहार सरकार के जल संसाधन मंत्री ललन सिंह का। 

आज बाढ़ के पंडारक में आमसभा के दौरान मंत्री ललन सिंह राजद पर जमकर बरसे। अपने संबोधन के दौरान उन्होंने बार-बार राजद के शासन काल का जिक्र किया। ललन सिंह ने कहा कि पति-पत्नी यानि लालू-राबड़ी के जंगलराज को जनता कभी भूल नहीं सकती। उनके शासनकाल में प्रदेश की स्थिति ऐसी थी कि आम जनता शाम होते ही अपने घरों के अंदर बंद होने को मजबूर हो जाती थी। अपराधियों के तांडव और घोटालों से लोग त्रस्त थे। लेकिन आज स्थिति ठीक इसके उलट है। आज अपराधी पनाह मांग रहे है। 

ललन सिंह ने कहा कि राजद शासन काल में चारा के नाम पर अलकतरा के नाम पर और जाने क्या क्या नाम पर घोटाले हुए। प्रदेश न कही सड़क था और न ही बिजली। अपराध भी अपने चरम पर था। हत्या, लूट और अपहरण की घटना आम बात थी। लेकिन आज स्थिति इसके ठीक उलट है। 

मंत्री ने कहा कि वे विनाश की बात करते थे हम विकास की बात करते हैं। आज पूरे प्रदेश की सूरत बदल गई है। सूबे के हर गांव को मुख्य मार्ग से जुड़ गया है। आज पांच-छ: घंटे के अंदर राज्य के किसी भी कोने से राजधानी पटना पहुंचा जा सकता है। हर गांव में बिजली पहुंच गई है। वहीं लोग अपने परिवार के साथ आराम से देऱ शाम तक बाजारों में घूम रहे है। यही फर्क है नीतीश सरकार और पति पत्नी के सरकार में। 

बाढ़ से कुमार कृष्णा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News