पटना पुलिस का 'थर्ड' डिग्री टार्चर, जिसे देख हर किसी के रोंगटे खड़े हो जायेंगे, लॉकडाउन तोड़ने की ये सजा?

पटना पुलिस का 'थर्ड' डिग्री टार्चर, जिसे देख हर किसी के रोंगटे खड़े हो जायेंगे, लॉकडाउन तोड़ने की ये सजा?

PATNA: लॉकडाउन के दौरान पटना पुलिस का क्रुर चेहरा एक बार फिर से नंगा हो गया है। कुछ ऐसे पुलिसवाले हैं जिनकी अमनावीय हरकत से पूरे डिपार्मेंट की नाक कट रही है। इस बार पटना पुलिस के एक बिगड़ैल ट्रेनी पुलिस अधिकारी जो पालीगंज में तैनात हैं उके द्वारा बाप-बेटे को थर्ड डिग्री देने की भयानक तस्वीर सामने आई है। जिस तरह से बाप-बेटों को थर्ड डिग्री दिया गया उस तस्वीर को देख आपके रोंगटे खड़े हो जायेंगे। वो तस्वीर देखकर आप सहम जायेंगे और कहेंगे कि लॉकडाउन तोड़ने की ये सजा? सभ्य समाज में इस तरह की अमानवीय हरकत की इजाजत कभी नहीं दी जा सकती। आप पुलिस की थर्ड डिग्री की वो 10 तस्वीर देखें। इन 10 तस्वीरों को देख कहेंगे यह जुर्म माफी लायक नहीं। इसे देख कोई भी नहीं कह सकता (यहां तक की पुलिसवाले भी) कि यह अपराध क्षमा योग्य है......।

पालीगंज के प्रशिक्षु डीएसपी राजीव कुमार सिंह और उनकी टीम पर बाप-बेटों को थर्ड डिग्री देने का आरोप है। पुलिस अधिकारियों ने बाप बेटे की बड़ी बेरहमी से पिटाई कर दी और घसीटते हुए थाने ले जाकर घण्टो हाजत मे बंद कर दिया। पुलिस ने हाजत में भी दोनों को बड़ी बेरहमी से पिटाई की। ऐसा पुलिसिया रॉब दिखाया कि उसे देखकर लोग हतप्रभ और दंग रह गए। बताया जाता है कि जख्मी युवक पालीगंज बाबा बोरिंग रोड मोहल्ले निवासी भूषण वर्मा और उनके पुत्र विकास कुमार, जो कि यूपीएससी की तैयारी के लिए 23 मई को संपूर्ण क्रांति ट्रेन से दिल्ली जाने वाले थे। जिसके लिए कुछ जरूरी समान की खारीदारी के लिए सुबह एक दुकान पर सड़क किनारे बाइक लगाकर समान की खरीददारी कर रहे थे। 

इस दौरान एक तेज गति से जा रही स्कॉर्पियो ने बाइक को टक्कर मार दिया।पीड़ित भूषण वर्मा ने इस घटना के विरोध में पालीगंज डीएसपी, एसएसपी, मुख्यमंत्री समेत तमाम संबंधित पदाधिकारियों के पास लिखित आवेदन देकर जांच और कार्रवाई की मांग की है। इधर, पालीगंज डीएसपी तनवीर अहमद ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है जांच के बाद करवाई की जाएगी।  

Find Us on Facebook

Trending News