छपरा की तीन बहनों ने शिव को समर्पित किया जीवन, लोगों ने पुष्प वर्षा कर किया अभिनन्दन

छपरा की तीन  बहनों ने  शिव को समर्पित किया जीवन, लोगों ने पुष्प वर्षा कर किया अभिनन्दन

CHAPRA : धर्म अध्यात्म और राजयोग के क्षेत्र में विशिष्ट कार्य कर रहीं ब्रह्मकुमारी बहनों के द्वारा छपरा शहर और आसपास के सामाजिक वातावरण को और अच्छा बनाने में अपना विशिष्ट योगदान दिया जा रह है। ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के माध्यम से वे लोगों को एक नेक इंसान बनाने, समाज को नैतिक बनाने व मानवीय मूल्यों के संवर्धन के लिए लगातार कार्य कर रही हैं। इन्ही लोगो के सानिध्य में आज 12वाँ समर्पण दिवस महोत्सव का आयोजन किया गया।

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विद्यालय, छपरा शाखा नजदीक सत्यनारायण मंदिर स्थित परिसर में सोमवार को छपरा सर्कल की 3 ब्रह्मकुमारी बहनों का समर्पण समारोह मनाया गया। इस मौके पर मुख्य रूप से ब्रह्मकुमारी संस्था की ब्रह्मकुमारी अनामिका दीदी, ब्रह्मकुमारी रानी दीदी, ब्रह्मकुमारी वीणा दीदी के साथ सभी बहनों के उनके माता-पिता, भाई बहन और अन्य परिजन भी उपस्थित रहे।


ब्रह्माकुमारी से जुड़े सैकड़ो ब्रह्मा वत्सों के बीच इस कार्यक्रम का शुभारंभ विधिवत वरमाला समर्पण से हुआ जिसमे बहनों को एक दुल्हन की तरह अन्य बहनों और भाइयों के द्वारा पुष्प वर्षा करते हुए मुख्य मंच तक लाया गया। जहाँ शिव के आत्मलिंग स्वरूप को रखा गया था। तत्पश्चात भगवान शिव पर माल्यार्पण के साथ ही तीनो बहनों द्वारा प्रदक्षिणा करने के उपरांत अपने को शिव को समर्पित कर दिया गया। वही अन्य बहनों और मौजुद वत्सो द्वारा नाच गान भी प्रस्तुत किया गया। शिव के साथ आत्म मिलन के इस दृश्य को देख कर सबका मनविभोर हो गया। वही बहनों द्वारा मंच पर ही केक काटा गया और समर्पण दिवस को उत्सव के रूप में मनाया गया।

राजयोगिनी ब्रह्मकुमारी अनामिका दीदी ने अपने आशीर्वचन देते हुए कहा कि जीवन वही श्रेष्ठ है, जो प्रभु के नाम समर्पित हो जाये। शिव की आराध्या शक्ति ने भी 12 वर्षो तक कठिन तपस्या करके अपना सर्वस्व शिव को समर्पित कर दिया था। ये विश्व शांति के लिए एक यज्ञ है जिसमे आज हम सभी ने अपना जीवन समर्पित कर दिया है विश्व कल्याण के लिए इन कन्याओं ने जो अपना सर्वस्व आज समर्पित किया है, इससे महान कार्य और कुछ भी नहीं हो सकता।

इस अवसर पर प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विद्यालय से जुड़ी अन्य ब्रह्मकुमारी बहनों में मुन्नी बहन, आराधना बहन, ज्योति बहन, प्रियांशु बहन, प्रिया बहन, राधा बहन और ब्रह्मकुमार भाइयों में अविनाश गोस्वामी, सचिन भाई, बंटी कुमार, मनोज कुमार, राजेश कुमार, रजनीश कुमार, राहुल कुमार, रवि, अर्जुन, प्रशांत सहित सैकड़ों वत्स मौजूद रहें।

छपरा से शशि सिंह की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News