टोपो लैंड की बन्दोबस्ती व खरीद-बिक्री पर रोक को लेकर सरकार चिंतित,बना दी गयी है कमिटी,जल्द होगा फैसला

टोपो लैंड की बन्दोबस्ती व खरीद-बिक्री पर रोक को लेकर सरकार चिंतित,बना दी गयी है कमिटी,जल्द होगा फैसला

Patna: टोपो लैंड की खरीद-बिक्री व बन्दोबस्ती को लेकर परबत्ता विधायक डॉ संजीव कुमार सहित अन्य सदस्यों का जवाब देते हुए मंत्री राजस्व विभाग रामसूरत राय ने सदन को अवगत कराया है। मंत्री ने कहा है कि सरकार चिंतित है और टोपो लैंड की खरीद बिक्री और उससे जुड़ी समस्याओं के समाधान को लेकर एक कमेटी बना दी गई है ।

गौरतलब है कि आज ध्यानाकर्षण सूचना के तहत  विधायक डॉ संजीव कुमार सहित 15 सदस्यों ने  टोपो लैंड को लेकर सवाल उठाया था। ध्यानाकर्षण सूचना के तहत यह पूछा गया था कि "बिहार सरकार ने पिछले 6 वर्षों से टोपो लैंड की बंदोबस्ती और खरीद बिक्री पर रोक लगा रखी है ।जिस कारण गैरमजरूआ जमीन का रसीद नहीं काटा जा रहा है ।जो किसान या उनके पूर्वज 70 साल से उक्त जमीन पर निवास और खेती कर रहे हैं और सरकार द्वारा निर्धारित लगान दे रहे थे उन किसानों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। वर्तमान में बिहार के पटना, सारण, लखीसराय, समस्तीपुर ,वैशाली बेगूसराय, खगड़िया, मुंगेर, भागलपुर ,नालंदा, गोपालगंज, बक्सर, मुजफ्फरपुर, पश्चिम चंपारण जिला में टोपो लैंड अवस्थित है। अतः लाखों किसानों के हित के लिए पूर्व की भांति जिन किसानों के पास जमीन का रसीद है उनके लिए सरकार द्वारा लगान निर्धारित करने तथा टोपो लैंड की बंदोबस्ती एवं खरीद बिक्री पुनः आरंभ करने हेतु हम सदन के माध्यम से सरकार का ध्यान आकृष्ट करते हैं"।

इस सवाल के जवाब में मंत्री रामसूरत राय ने बताया है कि  टोपो लैंड को लेकर सरकार चिंतित है। जल संसाधन विभाग और पर्यावरण विभाग का इस पर अभिमत प्राप्त हो गया है। साथ ही एनजीटी के द्वारा भी निर्देश आया है इस सिलसिले में टोपो लैंड को लेकर एक कमेटी का भी गठन कर दिया गया है। मंत्री ने यह भी कहा कि आपने सिर्फ 14 जिले की समस्याओं से अवगत कराया है। हालांकि यह कई जिलों में है और सिर्फ 70 साल का ही नहीं बल्कि 100 साल भी पुराना है। इसके समस्या के समाधान के लिए सरकार चिंतित है और जल्द ही कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद इसके खरीद बिक्री और बंदोबस्ती पर सरकार का निर्णय साफ हो जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News