दहेज की भेंट चढ़ी दो जिंदगी! ससुराल से नहीं पूरी हुई पैसे की डिमांड, तो सात माह की गर्भवती की पीट-पीटकर ले ली जान

दहेज की भेंट चढ़ी दो जिंदगी! ससुराल से नहीं पूरी हुई पैसे की डिमांड, तो सात माह की गर्भवती की पीट-पीटकर ले ली जान

NAWADA : नवादा से एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहां दहेज के खातिर एक विवाहिता की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई है। इस दौरान महिला के पेट में चल रहे 7 माह के बच्चे की भी मौत हो गई है। हत्या की घटना के बाद ससुराल वाले घर छोड़कर  फरार हो गए हैं। मृतका का नाम सुनिता देवी बताया गया है।

मामला  हिसुआ थाना क्षेत्र के मंझवे  गांव से जुड़ा है।  बताया जाता है कि हिंदू रीति रिवाज के साथ 2018 में मंझवे गांव के निवासी दीपू यादव के पुत्र योगेंद्र यादव से वजीरगंज थाना क्षेत्र के लोढिया गांव निवासी अवधेश यादव की पुत्री सुनीता देवी के साथ हिंदू रीति रिवाज के साथ विवाह संपन्न हुआ था। मैरिज के दौरान लगातार रुपया की डिमांड की जा रही थी जिसके बाद पिता ने 2 लाख रुपया भी दिया था। लेकिन लड़का के परिवार के द्वारा अक्सर पैसा का डिमांड किया जाने लगा और नहीं देने पर विवाहिता को प्रताड़ित कर रहे थे। लड़की को लगातार मायके से पैसा मंगवाने को लेकर दबाव दिया जा रहा था और पैसा नहीं आता था तो अक्सर मारपीट की घटना को भी अंजाम दिया जाता था। 

पेट में पल रहे सात माह के बच्चे पर नहीं पसीजा दिल

अंत में आकर सुनीता देवी की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई है। जिसके बाद मृतक के परिजन ने सास ससुर पति हत्या का आरोप लगाते हुए थाना में आवेदन देकर कार्रवाई की मांग किया है। सबसे बड़ी बात तो यह है कि दहेजलोभियों ने सात माह की एक गर्भवती विवाहिता की बुरी तरह से पिटाई कर हत्या कर दी है। पीटने के वक्त थोड़ी सी भी परिवार वालों को रहम नहीं आया कि विवाहिता के पेट में 7 माह का बच्चे पल रहे हैं। इतनी पिटाई की गई थी पेट में पल रहे बच्चे की भी मौत हो गई। 

परिवार के लोगों ने यह मांग किया है कि ससुराल वाले पर बच्चे और मां की हत्या का मामला दर्ज कर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। पूरे मामले पर पुलिस ने कहा है कि आवेदन के आधार पर कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी बहुत दर्दनाक घटना है मामला की जांच करते हुए दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News