राष्ट्रीय स्मारक के रूप में विकसित होगा विद्यापति डीह, विद्यापति सेवा संस्थान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को दिया प्रस्ताव

राष्ट्रीय स्मारक के रूप में विकसित होगा विद्यापति डीह, विद्यापति सेवा संस्थान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को दिया प्रस्ताव

DARBHANGA : महाकवि कोकिल विद्यापति डीह को राष्ट्रीय स्मारक के रूप में विकसित किए जाने के विस्तृत प्रस्ताव के साथ विद्यापति सेवा संस्थान के प्रतिनिधि सह मैथिली अकादमी के पूर्व अध्यक्ष पं कमलाकांत झा की अगुवाई में ग्लोबल मैथिल समाज के एक प्रतिनिधि मंडल ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की. जल संसाधन एवं सूचना व जनसंपर्क मंत्री संजय झा के अररिया संग्राम में स्थित आवास पर मुख्यमंत्री से हुई मुलाकात में प्रतिनिधिमंडल ने विद्यापति डीह को राष्ट्रीय स्मारक के रूप में विकसित किए जाने से संबंधित एक विस्तृत कार्य योजना का प्रारूप भी मुख्यमंत्री को सौंपा.  विद्यापति डीह को राष्ट्रीय स्मारक के रूप में विकसित कर इसे पर्यटन स्थल के रूप में घोषित करने के प्रस्ताव की मुख्यमंत्री ने सराहना करते हुए इस कार्य के लिए तत्काल मंत्री संजय झा को अधिकृत करते हुए आगे की कार्यवाही को यथाशीघ्र पूरा कर लेने की बात कही.

मुख्यमंत्री को समर्पित प्रस्ताव में विद्यापति डीह के प्रवेश द्वार पर एक गेट के साथ, अतिथि गृह की व्यवस्था किए जाने का प्रस्ताव दिया गया है. जबकि विद्यापति की प्रस्तर की मूर्ति पर छतरी की व्यवस्था की जायेगी. विद्यापति स्मारक से सटे पश्चिम खाली जमीन पर स्मारक भवन के लंबाई के समानांतर एक तीन मंजिले भवन का निर्माण का प्रस्ताव दिया गया है. इस भवन के प्रथम तल पर एक रंग मंच, दूसरे तल पर एक पुस्तकालय एवं तीसरे तल को एक सभागार का रूप में विकसित करने का प्रस्ताव है. इसमें सबसे अहम बात यह है कि वर्तमान में विद्यापति का तालाब जो अभी स्मारक की चाहरदीवारी से बाहर है, पश्चिम उत्तर दिशा से तोड़ कर उस तालाब को स्मारक के चाहरदीवारी के अंदर लाया जाना प्रस्तावित किया गया है. इस तालाब को चारों और से घेराबंदी कर जगह-जगह फव्वारे भी बनाये जाने का कार्य योजना में प्रस्तावित है. इसके साथ ही बैठने के लिये कुर्सियों का निर्माण कराया जायेगा. बची हुई जमीन पर एक सुंदर फुलवारी के साथ शौचालय का नवीनीकरण, पेय जल की अच्छी व्यवस्था के साथ रौशनी की अच्छी व्यवस्था किए जाने का प्रस्ताव दिया गया है. 

 प्रतिनिधिमंडल में दिल्ली मैथिल समाज से विजय चंद्र झा, ग्लोबल मैथिल समाज से राज किशोर झा, विराट नगर मैथिल समाज से प्रवीण नारायण चौधरी, पटना मैथिल समाज से राजेश झा, दरभंगा मैथिल समाज जीवानंद झा, नागपुर मैथिल समाज से मनोज चौधरी, मिथिला निर्माण सेना से राजेश झा, डॉ आरके भारती सहित विद्यापति सेवा संस्थान के दूसरे प्रतिनिधि के रूप में दुर्गानंद झा शामिल थे.

दरभंगा से वरुण ठाकुर की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News