हर घर (नल का) जल : बिहार में सीएम नीतीश के विकास के पानी में डूब गयी उत्तर बिहार की राजधानी

हर घर (नल का) जल : बिहार में सीएम नीतीश के विकास के पानी में डूब गयी उत्तर बिहार की राजधानी

MUZAFFARPUR :  अपने पिछले कार्यकाल में सीएम नीतीश कुमार ने प्रदेश के सभी शहरों और गांवों में लोगों को शुद्ध पेयजल की सुविधा उपलब्ध कराने की घोषणा की थी। अब घर में शुद्ध पेयजल तो नहीं पहुंचा है, लेकिन जल पहुंचाने में कामयाबी जरुर मिल गई है। तस्वीरें उत्तर बिहार की राजधानी कही जानेवाली मुजफ्फरपुर की हैं। जहां हर साल की तरह इस साल भी लगातार हो रही बारिश के कारण बाढ़ के पानी ने एक बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया है।  जिसके कारण बाढ़ आते ही नदी का पानी एक तरफ के लोगों का प्रखंड जिला मुख्यालय से संपर्क टूट गया है।

यहां रहनेवाले लोगों का कहना है कि हर साल बाढ़ के कारण कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। चाहे किसी की शादी हो या फिर कोई बीमार पड़े। लेकिन रास्ता ना होने के कारण बहुत से लोगों की इलाज न होने से जान चली जाती है। वहीं ये बात छात्र राजद के कटरा प्रखंड अध्यक्ष मोहम्मद फैसल ने कहते हुए कहा कि कई लोग औराई विधानसभा क्षेत्र से जीतकर विधायक बने लेकिन आज तक सब ने भरोसा दिलाया पिछली बार जब बाढ़ आई थी उस समय हम लोगों ने हर संभव मदद करने का कोशिश किया लेकिन इस बार भी हम लोग जो बन पड़ेगा कोशिश करेंगे। 

लेकिन यहाँ कब तक लोग डूबते रहेंगे, लोग बेमौत मरते रहेंगे इस क्षेत्र के लोगो का दुःख दर्द कौन सुनेगा। ये 15 सालों से चल रही सुशासन बाबू के सरकार में औराई विधानसभा का विकास नहीं हो सका न ही पुल पुलिया का निर्माण हो सका। लोग चांद पे जा रहे हैं लेकिन हमारे विधानसभा के लोग चचरी और बाढ़ के पानी से परेशान हैं। यहां रहनेवाले लोगों का कहना है कि ऐसे तो विकास का ढोल नगाड़ों बजाते चलते हैं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लेकिन उनके तमाम दावों की बढ़ चढ़कर पोल खोल रही है, मुजफ्फरपुर औराई विधानसभा के डूबा हुआ क्षेत्र अगर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को थोड़ी भी शर्म हैं तो इस बड़ी समस्या का स्थाई रूप से निदान करें या नही तो वे अपने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे।

Find Us on Facebook

Trending News