अब क्या कहेंगे CM नीतीश जी? अपने ही राज में मंत्री चीख-चीख कर कह रहे...यह नरसंहार है...पुलिस निकम्मी हो गई है,कोई कार्रवाई नहीं हुई

अब क्या कहेंगे CM नीतीश जी? अपने ही राज में मंत्री चीख-चीख कर कह रहे...यह नरसंहार है...पुलिस निकम्मी हो गई है,कोई कार्रवाई नहीं हुई

PATNA: बिहार की पुलिस से लोगों का विश्वास उठ गया है। दावे किये जाते हैं कि बिहार में सुशासन राज है लेकिन चहुंओर हत्या,लूट की घटनायें आम हैं। लेकिन पुलिस और सरकार सिर्फ अपनी पीठ थपथपाने में लगी रहती है। सीएम नीतीश चाहे जो भी दावे कर लें लेकिन हकीकत यही है कि पुलिस पर से अब आमलोगों की बात छोड़िए खास लोगों का भी विश्वास उठ चुका है। मुख्यमंत्री भले ही दावे करते हों कि बिहार में कानून का राज है लेकिन उनके मंत्रियों को ही पुलिस पर से भरोसा उठ गया है। तेजस्वी यादव और विपक्ष की बात तो दूर सीएम नीतीश के मंत्रियों और जेडीयू के विधायकों ने अब खुलकर बोलना शुरू कर दिया है कि पुलिस निकम्मी है और दारूबाज है। 

निकम्मी है सीएम नीतीश की पुलिस

ताजा मामला मधुबनी है का जहां बेनीपट्टी में होली के दिन नरसंहार हुआ। इस नरसंहार में एक ही परिवार के चार लोगों की गोली मार कर हत्या कर दी गई। मरने वालों में तीन सहोदर भाई और एक चचेरे भाई शामिल हैं। बिहार सरकार के पर्यावरण एवं वन मंत्री नीरज सिंह बबलू आज पीड़ित परिवार से मुलाकात करने मधुबनी पहुंचे। मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि बेनीपट्टी के मोहम्मदपुर की घटना साधारण घटना नहीं है.बहुत बड़ा नरसंहार हुआ है.

पुलिस पर कार्रवाई नहीं होने से चकित हैं मंत्री 

नीतीश कैबिनेट के मंत्री नीरज कुमार बबलू ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि यह पुलिस का निकम्मापन है। पुलिस के निकम्मे होने की वजह से ये घटना हुई है। उन्होंने आश्चर्य जताया कि इतनी बड़ी घटना हो गई और अब तक निकम्मे पुलिसकर्मियों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई यह चकित करने वाला है।इतनी बड़ी घटना हुई है फिर भी पुलिस चुप बैठी रही। 

Find Us on Facebook

Trending News