जब अपने ही बन गए जान के दुश्मनः पिता- पुत्र का छोटे बेटे पर जानलेवा हमला, वीडियो वायरल, पुलिस ने 12 घंटे में ही आरोपियों को छोड़ा

जब अपने ही बन गए जान के दुश्मनः पिता- पुत्र का छोटे बेटे पर जानलेवा हमला, वीडियो वायरल, पुलिस ने 12 घंटे में ही आरोपियों को छोड़ा

GAYA: कोरोनाकाल की त्रासदी के दौरान ही हमें कई ऐसी खबरों से दो-चार होना पड़ा जहां रिश्तो की अहमियत खत्म होती नजर आई। कोरोना संक्रमण का हवाला देते हुए जहां स्वजन एक-दूसरे से दूर हो गए, वहीं कई लोग तो अपने ही शव को लावारिस छोड़कर चले गए। इसे अलावा भूमि विवाद, संपत्ति विवाद सहित कई ऐसे मामलों से जुड़ी खबरें भी आती हैं, जहां लोग अपने ही रिश्तों के खून के प्यासे हो जाते हैं। इसी तरह का खौफनाक मामला गया जिले से सामने आया है, जहां पिता बड़े बेटे के साथ मिलकर छोटे बेटे को बेरहमी से पीट रहा है। इस वायरल वीडियो की पुष्टि news4nation नहीं करता है, लेकिन जिस तरह से कानून को हाथ में लेकर बर्बरतापूर्ण मारपीट की गई है, उसे कानून की नजरों में लाने की कोशिश की गई है।

पिता और बड़े भाई का छोटे पर जानलेवा हमला

बिहार के गया से रोंगटे खड़े कर देने वाला वीडियो सामने आया है, जिसमें पिता अपने बड़े बेटे के साथ मिलकर छोटे बेटे को बेरहमी से लाठी से जल्लादों की तरह पीटते हुए दिख रहा है। पिता और बड़े भाई का रिश्तों की मार्मिकता भूलकर जल्लादों की तरह छोटे बेटे पर जुल्म ढाते नजर आ रहे हैं। लहूलुहान छोटा बेटा जिंदगी की भीख मांगता गिड़गिड़ाता दिख रहा है, लेकिन बेरहम जल्लाद पिता और बड़े भाई ने मिलकर जान मारने पर आमादा है। पिटाई का यह लाइव वीडियो 26 जुलाई का बताया जा रहा है। इस दर्दनाक लाइव वीडियो में बड़े भाई की पहचान चंद्र भूषण सिंह और पिता तारकेश्वर सिंह के रूप में की गई है। दोनों साफतौर पर लल्लन सिंह पर जानलेवा हमला करते नजर आ रहे हैं। यह पूरा मामला गया जिला के गुरारू थाना क्षेत्र के सरेवा डीहा पर की है।


पुलिस ने घायल को पहुंचाया अस्पताल

घटना की सूचना मिलने पर गुड़ारु थाना की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस की मदद से घायल लल्लन सिंह को तत्काल गुरारु के प्राथमिक स्वास्थ केंद्र में इलाज कराया गया। जहां घायल की हालत की गंभीरता को देखते हुए उसे गया के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया है। अभी भी लल्लन सिंह जीवन और मौत के बीच संघर्ष कर रहा है।

12 घंटे में ही आरोपियों को पुलिस ने छोड़ा

इस मामले में पीड़ित के परिजनों द्वारा थाने में मामला दर्ज कराया गया है औऱ अपने ही स्वजनों से बचाने हेतु न्याय की गुहार लगाई गई है। आवेदन के आधार पर पुलिस हरकत में भी आई। वीडियो के आधार पर आरोपी पिता-पुत्र को गिरफ्तार भी किया गया, मगर 12 घंटे के भीतर ही दोनों को जेल से मुक्त कर दिया गया। इसके बाद से ही लल्लन सिंह के परिजन खौफजदा हैं। इस घटना की शिकायत परिजनों ने गया के वरीय पुलिस अधीक्षक से की है।


Find Us on Facebook

Trending News