पति ने लगाई फांसी तो सामने आया महिला दरोगा का कई राज

पति ने लगाई फांसी तो सामने आया महिला दरोगा का कई राज

पटना. बिहार पुलिस की एक प्रशिक्षु महिला पुलिस अवर निरीक्षक पिछले एक सप्ताह से ज्यादा समय से गुमशुदा है. अब महिला दरोगा के बारे में कई खुलासे हो रहे हैं जिसमें यह भी कहा जा रहा है कि उसने दरोगा बनने के दौरान अपनी शादी की बात छिपाई थी. 

प्रशिक्षु पुलिस अवर निरीक्षक प्रीति कुमारी बेगूसराय जिले के बरौनी थाना में थी. उसे पंचायत चुनाव के छह दिसम्बर को ड्यूटी पर लगाया गया था. इसके लिए प्रीति छह दिसंबर को 11 वें चरण के मतदान ड्यूटी के लिए बरौनी थाना से बेगूसराय पुलिस केंद्र रवाना हुईं. हालाँकि उसके बाद से प्रीति गायब है. यहाँ तक कि उसने इस संबंध में पुलिस विभाग को कोई लिखित आवेदन भी नहीं दिया है. 


अब पता चला है कि प्रीति शादीशुदा थी और उसके पति ने फांसी लगा ली है. पति के परिवारवालों ने महिला दारोगा पर आत्‍महत्‍या के लिए उकसाने और प्रताड़‍ित करने का आरोप लगाया है. नौ दिसंबर को पटना में प्रीति के पति ने राजीवनगर इलाके में स्थित अपने फ्लैट में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. मूलत: झारखंड के बोकारो जिले के चास की रहने वाली प्रीति को लेकर युवक के परिवार का कहना है कि दरोगा बनने के पहले तक सबकुछ ठीक था लेकिन, जब वह दरोगा बनी तब उसका पति और परिवार के प्रति व्यवहार बदल गया. इसी से परेशान होकर प्रीति के पति ने फांसी लगाई है. 

प्रीति की चुनाव ड्यूटी बेगूसराय के बछवाड़ा में लगी थी. सम्भवतः पति की मौत की खबर सुनने के बाद वह परेशान होकर वहां से निकली और अब उसका पता नहीं चल रहा है. इस संबंध में फिलहाल पुलिस की ओर से दरोगा की गुमशुदगी की कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है. वह 13 सितम्बर से चार महीने के लिए बरौनी में प्रशिक्षु दरोगा के रूप में तैनात थी. 

Find Us on Facebook

Trending News