पटना में जलजमाव के लिए जिम्मेदार कई अधिकारियों पर गिरी गाज, सीएम की हाई लेवल बैठक में फैसला

पटना में जलजमाव के लिए जिम्मेदार कई अधिकारियों पर गिरी गाज, सीएम की हाई लेवल बैठक में फैसला

PATNA: पटना में जलजमाव की वजह और निराकरण को लेकर बुलाई गई हाई लेवल बैठक खत्म हो गई है।सीएम नीतीश कुमार की अध्यक्षता में आयोजित बैठक लगातार चार घंटे तक चली।बैठक के बाद बिहार के मुख्यसचिव दीपक कुमार ने मीटिंग में लिए गए निर्णय की विस्तृत जानकारी दी।

मुख्य सचिव ने बताया कि कई पदाधिकारियों को सस्पेंड किया गया है और कई को शो कॉज किया गया है। उन्होंने बताया कि बुडको के मुख्य अभियंता समेत 11 लोगों पर कार्रवाई की गई है। इसके साथ ही नगर निगम के 2 कार्यपालक अभियंताओं पर गाज गिरी है। कई सिटी मैनेजरों पर भी कार्रवाई की गई है।

उन्होंने बताया कि 22 कर्मी जो पम्पिंग स्टेशन पर काम कर रहे थे उनको शो कॉज किया गया है।कई अधिकारी पर एक दो दिन में करवाई होगी। उन्होंने बताया कि विकास आयुक्त की अध्यक्षता में एक कमिटी गठित की गई है जिसमें कई विभागों के अधिकारी शामिल होंगे। कमिटी एक महीने में अपनी पूरी रिपोर्ट देगी। जिसके बाद सरकार अपनी निर्णय लेगी। बरसात से पहले सभी कामों को अंजाम तक पहुंचाया जाएगा।

मुख्य सचिव ने बताया कि राजधानी पटना में 14 जगहों में नया संप हाउस बनाने का प्रस्ताव है। गोला रोड, आरपीएस मोड़ जैसे इलाकों में भी संप हाउस लगाए जाने का प्रस्ताव है। इसके अलावा 100 पंप की भी व्यवस्था करने की बात मीटिंग में हुई है। 

दीपक कुमार ने बताया कि कुछ बड़े अधिकारी पर भी एक दो दिनों में कार्रवाई हो सकती है। सरकार के पास इस संबंध में प्रस्ताव विचाराधीन है। उन्होने बताया कि अब पटना नगर निगम क्षेत्र में कोई भी कार्य बिना पीएमसी के अनुमति के नहीं होगा। इसके अलावा पटना में जल निकासी को लेकर बड़े पैमाने पर नाले के जाल बिछाया जाएगा।




Find Us on Facebook

Trending News