ऐसे कैसे बनेंगे स्मार्ट! डंपिंग के लिए जगह मिलने के बाद खुले में फेंका जा रहा कचरा

ऐसे कैसे बनेंगे स्मार्ट! डंपिंग के लिए जगह मिलने के बाद खुले में फेंका जा रहा कचरा

 भागलपुर। प्रदेश में भागलपुर उन शहरों में शामिल है, जिसे स्मार्ट सिटी के लिए चुना गया है। लेकिन यहां की हालत में ज्यादा सुधार नजर नहीं आता है। शहर में जहां तहां कचरा फेंका जा रहा है। सड़क किनारे कचरे को डंप किया जा रहा है, जिसके कारण लोगों को परेशानी का सामना भी करना पड़ रहा है। यह हालत तब है जबकि कचरा डंप करने के लिए दो साल पहले ही जगह आंवटित की जा चुकी है, लेकिन अब तक यहां डंपिंग का काम शुरू नहीं हुआ।

 कनकैथी में कचरा डंप करने के लिए डंपिंग ग्राउंड बनाया गया है, डंपिंग ग्राउंड मिले 2 वर्ष हो गए लेकिन अब भी नगर निगम शहर भर का कचरा शहर के बीचो-बीच लाजपत पार्क के समीप या नाथनगर के दोगच्छी और बाइपास के समीप गिरवा रहा है, बाइपास के समीप सड़क किनारे पूरा डंप करने से वन विभाग के लगाए दर्जनों पौधों का जीवन संकट में तो है ही दूसरी ओर सड़क किनारे लगे कचरे की अम्बार से फैल रही बदबू आवाजाही करने वाले राहगीरों को परेशानी में डाल रहा है।

मेयर कर रही सुधार की बात

मामले में जब नगर निगम की मेयर सीमा साहा से बात की तो उन्होंने कहा कि पूर्व में यहां के मंत्री से डंपिंग यार्ड में कचरा फेंकने के लिए स्वीकृति पर चर्चा की गई थी, लेकिन इसके बाद मामला वहीं अटक गया। अब डंपिंग यार्ड में कचरा फेंकने की व्यवस्था की जा रही है।

नाराज दिखे भागलपुर विधायक

शहर में फैले कचरे को लेकर स्थानीय विधायक अजीत शर्मा नगर निगम की कार्यशैली से नाराज दिखे। उन्होंने कहा कि यहां सालों से एक ही अधिकारी और बाबू डटे हुए हैं। उनका ट्रांसफर नहीं हुआ है। जिसके कारण काम में तेजी नहीं आती है और नगर निगम में सिर्फ और सिर्फ लूट खसोट मचा हुआ है उन्होंने कहा भागलपुर नगर निगम में सुधार तब ही होगा, जब यहां के अधिकारियों को हटाया जाएगा। विधायक ने कहा इस संबंध में बिहार के डिप्टी सीएम को मैंने लेटर लिखा है। 


Find Us on Facebook

Trending News