खाना खाने के बाद पैसे चुकता कर भूल गए राहुल गांधी सहित सभी कांग्रेसी नेता, ढाई साल से चक्कर लगाने के बाद कैटरिंग संचालक ने अब सुसाइड की धमकी, जानिए क्या है पूरा मामला

खाना खाने के बाद पैसे चुकता कर भूल गए राहुल गांधी सहित सभी कांग्रेसी नेता, ढाई साल से चक्कर लगाने के बाद कैटरिंग संचालक ने अब सुसाइड की धमकी, जानिए क्या है पूरा मामला

AJMER : ढाई साल पहले राजस्थान के अजमेर में राहुल गांधी दो दिवसीय अधिवेशन आयोजित करते हैं।  इस अधिवेशन में देश भर के कांग्रेस के तमाम कांग्रेसी नेता शामिल होते हैं। अधिवेशन में उस समय होनेवाले लोकसभा चुनाव को लेकर योजना बनाई जाती है। अब इस अधिवेशन का एक दूसरा पहलू सामने आया है। जिसमें दो दिन तक राहुल गांधी सहित कांग्रेसी नेताओं के लिए भोजन का इंतजाम करनेवाले कैटरिंग संचालक के पैसों का अब तक भुगतान नहीं किया गया है। अब पैसे नहीं मिलने से परेशान होकर कैटरिंग संचालक ने आत्महत्या करने की धमकी दी है। साथ ही उसने इसके लिए कांग्रेस नेताओं को जिम्मेदार बताया है।

14 फरवरी 2019 का मामला

दरअसल, राजस्थान के अजमेर में 14 फरवरी, 2019 को दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन का आयोजन किया गया था। जिसमें कांग्रेस के तत्कालिक अध्यक्ष राहुल गांधी, राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत, सेवादल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी देसाई सहित कई नेता मौजूद थे। इस अधिवेशन में शामिल होने वाले प्रतिनिधियों के भोजन और नाश्ते के लिए खंडेलवाल कैटरिंग के संचालक मिलन खंडेलवाल को ठेका दिया गया था। कैटरिंग के भुगतान की जिम्मेदारी चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा को सौंपी गई थी।

71 लाख का था टेंडर

बताया गया कि दो दिन अधिवेशन के लिए 71 लाख रुपए में ठेका हुआ था। कैटरिंग संचालक खंडेलवाल का कहना है कि उन्होंने कुल ढाई लाख लोगों के भोजन और नाश्ते का प्रबंध किया था। अधिवेशन के दौरान पदाधिकारियों ने उन्हें 36 लाख रुपए का भुगतान तो कर दिया, लेकिन शेष 35 लाख रुपए अब तक नहीं दिया गया है।

पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय में सुसाइड की धमकी

कैटरिंग संचालक मिलन खंडेलवाल का कहना है कि उन्होंने ब्याज पर रुपए लेकर कांग्रेस प्रतिनिधियों के भोजन और नाश्ते का प्रबंध किया था। लेकिन अब बार-बार रुपए मांगने पर भी भुगतान नहीं किया जा रहा है। इस संबंध में वह अशोक गहलोत, डॉ. रघु शर्मा और सेवादल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी देसाई सहित कई नेताओं से भी मिल चुके हैं, लेकिन किसी ने उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया। ऐसे में जब उन्हें कोई दूसरा रास्ता नजर नहीं आया तो उन्होंने दिल्ली जाकर कॉन्ग्रेस मुख्यालय में आत्महत्या करने की बात कही है।

कांग्रेस ने बताया भाजपा की साजिश

मामले पर सेवादल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी देसाई का कहना है कि उन्होंने वीर सावरकर, आरएसएस और भाजपा के खिलाफ बोला है, इसलिए हंगामा करने के लिए एक व्यक्ति को भेज दिया। उनके अनुसार यह भाजपा की साजिश है। वहीं सेवादल के प्रदेशाध्यक्ष हेम सिंह ने कहा कि उनके खिलाफ अजमेर के कई पुलिस थानों में धोखाधड़ी के मामले दर्ज हैं। हेम सिंह का कहना है कि मिलन खंडेलवाल को तय रकम का भुगतान कर दिया गया है, लेकिन वह ब्लैकमेल कर ज्यादा रुपए मांग रहा है।

जिसका खाए हो, उसका भुगतान तो कर दीजिए राहुल जी

इस घटना को लेकर बीजेपी ने कॉन्ग्रेस पार्टी पर निशाना साधा है। भाजपा सांसद प्रवेश साहिब सिंह वर्मा ने ट्वीट किया, ”राहुल गाँधी जी जिस गरीब का खाना खाकर आए हो कम से कम उसकी पेमेंट तो कर दीजिए।” 

Find Us on Facebook

Trending News