सुपौल के छातापुर मे प्रखंड प्रमुख बनी असिया देवी, उप प्रमुख के रूप में संजय यादव हुए विजयी

सुपौल के छातापुर मे प्रखंड प्रमुख बनी असिया देवी, उप प्रमुख के रूप में संजय यादव हुए विजयी

SUPAUL : जिले के में कड़ी सुरक्षा के बीच अनुमंडल सभागार परिसर में छातापुर प्रखंड के नवनिर्वाचित पंचायत समिति की विशेष बैठक हुई। जिसमें त्रिवेणीगंज एसडीओ एस जेड हसन तथा डीएम द्वारा प्रतिनियुक्त एडीएम की देख रेख में प्रमुख तथा उप प्रमुख का चुनाव किया गया। एसडीओ के अनुसार बैठक में 33 पंचायत समिति सदस्य मौजूद थे। एसडीओ ने सर्वप्रथम बैठक में आए सभी पंचायत समिति सदस्यों को शांतिपूर्वक शपथ दिलाई। उसके बाद सभी को शराबबंदी को लेकर भी शपथ दिलाई। तब जाकर प्रमुख और उपप्रमुख चुनाव प्रक्रिया शुरू हुई। प्रमुख बनने के लिए मुख्य रूप से दो खेमा आमने सामने नजर आ रहा था। दोनों खेमा में टसमा टस का माहौल था। प्रमुख पद के लिए असिया देवी और संजू देवी ने नामांकन पर्चा दाखिल किया। 

जिसमें पंचायत समिति सदस्य असिया देवी को 17 मत मिले और इनके प्रतिद्वंन्दी पंचायत समिति सदस्य संजु देवी को 16 मत प्राप्त हुए। इस तरह असिया देवी एक मत से विजय प्राप्त कर छातापुर प्रखंड प्रमुख की कुर्सी पर काबिज हुई हैं। इस बार का छातापुर प्रखंड में प्रमुख पद के लिए 17 पंचायत समिति सदस्यों की जरूरत थी। कुल छातापुर प्रखंड में 33 पंचायत समिति सदस्य नव निर्वाचित हुए हैं। वहीं उप प्रमुख पद के लिए दो पंचायत समिति सदस्यों ने अपना नामांकन पर्चा दाखिल किया। जिसमें संजय यादव को 18 मत प्राप्त हुए हैं और अशोक दास को 14 मत मिले हैं। जबकि उप प्रमुख पद के लिए एक पंचायत समिति सदस्य का मत किसी को नही पड़ा। संजय यादव 3 मतों से जीत दर्ज कर उप प्रमुख के कुर्सी पर काबिज हुए हैं।

नवनिर्वाचित प्रमुख असिया देवी ने कहा की हम सब एक साथ आपस में मिलकर विकास का नींव रखेंगे और छातापुर प्रखंड को विकास की ओर आगे बढ़ाएंगे। जिसको लेकर असिया देवी की समर्थकों में काफी खुशी की लहर देखने को मिला। जानकारी देते हुए अनुमंडल पदाधिकारी एस जेड हसन ने बताया कि प्रमुख व उप प्रमुख की चुनाव पारदर्शिता के साथ कराई गई है। छातापुर प्रखंड प्रमुख पद के लिए असिया देवी व उप प्रमुख पद के लिए संजय यादव चुनाव जीत दर्ज की है। सभी को निर्देशित किया गया है कि चुनाव जीतने के बाद जुलूस निकालने और डीजे बजाने पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध है। सभी प्रतिनिधि शांतिपूर्वक अपने-अपने घर जाए। अगर जुलुस निकालने और डीजे बजाते पकड़े जाने पर सख्ती से कार्रवाई की जाएगी। 


सुपौल से पप्पू आलम की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News