चुनाव से पहले पीएम के सामने भाजपा शासित मुख्यमंत्रियों ने पेश की अपनी रिपोर्ट कार्ड, टिकट बंटवारे को लेकर प्रधानमंत्री ने कहा - न लगाएं इसकी उम्मीद

चुनाव से पहले पीएम के सामने भाजपा शासित मुख्यमंत्रियों ने पेश की अपनी रिपोर्ट कार्ड, टिकट बंटवारे को लेकर प्रधानमंत्री ने कहा - न लगाएं इसकी उम्मीद

VARANASI : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक दिन पहले महादेव भक्त के रूप में नजर आए थे। वहीं मंगलवार को वह एक पक्के राजनेता और भाजपा के बड़े नेता के रूप में नजर आए। मौका था भाजपा शासित मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक का। जहां यूपी के सीएम सहित 11 राज्यों के सीएम ने अपने राज्य में किए जा रहे विकास कार्य की रिपोर्ट पीएम के सामने पेश की. वाराणसी के बरेका स्थित प्रशासनिक भवन में आयोजित बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने अपने मुख्यमंत्रियों के सामने कई निर्देश दिए हैं। 

बताया जा रहा है कि . पीएम  मोदी सभी को सख्त आगाह किया है कि आप सभी जनता से जुड़े रहे और जनता के बीच मे स्वयं जा कर अपने कार्यो का रिपोर्ट कार्ड दें. साथ ही विपक्ष के सभी सवालों का जवाब अपने विकास किये कार्यो की जानकारी जनता के बीच मे पहुंचाए। मोदी का विशेष ध्यान उन राज्यों पर था, जहां आनेवाल कुछ माह में चुनाव होने हैं। प्रधानमंत्री  ने सभी राज्यो के मुख्यमंत्रियों को काशी विश्वनाथ धाम विकास का मॉडल अपने राज्यों में जनता तक पहुंचाने का निर्देश दिया. पीएम ने कहा कि सभी पांच राज्यो के चुनाव में सभी विधायक अपने विधानसभा क्षेत्र में जाएं, जनता के बीच में अपने किए हुए कार्यों को बताएं और जो भी कार्य रूक गए, उसे पूरा करें।

काम पर मिलेगा टिकट, पैरवी को भूल जाएं

बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने उन सभी मुख्यमंत्रियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं वह विधायकों के पांच साल के रिपोर्ट कार्ड को चेक करे और जनता के बीच उनकी लोकप्रियता का फीडबैक लेकर चुनाव में टिकट तय किया जाए. टिकट को लेकर किसी भी पैरवी और रिश्तेदारी को कतई तवज्जो नहीं देना है। अगर उनका काम बेहतर नहीं है तो किसी भी स्थिति में उन्हें टिकट नहीं मिलेगी।

जनता के बीच बढ़ाएं सपर्क, छोटी-छोटी चौपालों पर जोर

प्रधानमंत्री ने बैठक में सभी को जीत का मंत्र भी दिया. उन्होंने कहा कि चुनाव के लिए सभी जन प्रतिनिधि जनता के बीच में बने रहें और संगठन के लोग अपनी अलग-अलग उपस्थिति बरकरार रखें। गांव कस्बे मोहल्ले और कॉलोनियों में छोटी-छोटी चौपाले आयोजित कर प्रदेश और केंद्र की योजनाओं की जानकारी जनता को दें। सोशल मीडिया पर सक्रिय रहे और संयमित तरीके से जनता के बीच में अपनी बात रखें।


Find Us on Facebook

Trending News