बेगूसराय गोलीबारी की घटना साजिश तो नहीं? सीएम नीतीश बोले- ऐसी घटना पहले नहीं घटी, जो हो रहा...उससे अलर्ट होने की जरूरत

बेगूसराय गोलीबारी की घटना साजिश तो नहीं? सीएम नीतीश बोले- ऐसी घटना पहले नहीं घटी, जो हो रहा...उससे अलर्ट होने की जरूरत

पटना. बेगूसराय में कल साइको किलरों ने जमकर उत्पात मचाया। अपराधियों ने 30 किलोमीटर में गोलियों की बारिश करते हुए 11 लोगों को गोली मारी दी। इसमें एक लोगों की मौत हो गयी। इस घटना पर पहली बार सीएम नीतीश का बयान आया है। उन्होंने कहा कि इस घटना की जांच की जा रही है। वहीं उन्होंने इशारों-इशारों में इसके लिए बीजेपी को भी कटघरे में घेर लिया। उन्होंने कहा कि जिस तरह से चीजें हो रही है, इससे तो साफ है कि हमलोगों को अलर्ट होकर काम करने की जरूरत है।

सीएम नीतीश ने बेगूसराय की घटना को लेकर मीडिया के सवाल को जवाव देते हुए कहा कि जान लीजिये कि किस तरह लोगों को सचेत किया हुआ है। इस तरह की घटना पहले कभी भी नहीं घटी है। लेकिन जो चीजें हो रही है। उससे साफ स्पष्ट है कि अलर्ट होने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमलोग अब और ज्यादा अलर्ट होकर काम करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि पुलिस को निर्देश दे दिया गया है कि इस मामले में सभी एंगलों से जांच की जाए।

अलर्ट होने की जरूरत- सीएम नीतीश

हालांकि सीएम नीतीश ने बेगूसराय की घटना से स्पष्ट रूप से किसी का नाम नहीं जोड़ा है, लेकिन उन्होंने ये अवश्य कहा कि जो चीजें हो रही हैं, उससे अलर्ट होने की जरूरत है। तो ऐसे में सवाल उठता है कि किनसे अलर्ट होने की जरूरत है? कहीं उनका इशारा बीजेपी की तरफ तो नहीं है? इससे पहले भी जदयू के कई नेता कह चुके हैं कि भाजपा माहौल बिगाड़ सकती है, क्या सीएम नीतीश के बयान को इससे जोड़कर देखा जाना चाहिए?

पांच हिरासत में

वहीं घटना को लेकर बेगूसराय के एसपी योगेन्द्र कुमार ने बुधवार को बताया कि 5 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। उन्होंने कहा कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गोलीबारी करने वाले अपराधियों की शिनाख्त करने की कोशिश की गई है। उसी आधार पर दो मोटरसाइकिल पर 4 लोगों को जाते हुए देखा गया है। संदेह के आधार पर पांच लोगों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है।

सात पुलिसकर्मी निलंबित

वहीं बेगूसराय पुलिस ने घटना को गंभीरता से लेते हुए लापरवाही बरतने के आरोप में सात पुलिस अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। घटना को लेकर फुलवडिया थाना के शशिभूषण सिंह, जीरोमाइल ओपी के मुकरु हेम्ब्रम, चकिया ओपी के विनोद प्रसाद, तेघड़ा थाना के कृष्ण कुमार, एफसीआई ओपी के रमेंद्र कुमार यादव, बरौनी थाना के संजय कुमार और बछवाड़ा थाना के रामकिशोर सिंह को लापरवाही बरतने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है।


Find Us on Facebook

Trending News