कटिहार मेयर हत्याकांड में बड़ा खुलासा : गिरफ्त में आए आरोपी, प्रत्यक्षदर्शी ने बताई हत्या की पूरी कहानी, जानिए क्यों हुई हत्या

कटिहार मेयर हत्याकांड में बड़ा खुलासा : गिरफ्त में आए  आरोपी, प्रत्यक्षदर्शी ने बताई हत्या की पूरी कहानी, जानिए क्यों हुई हत्या

KATIHAR : कटिहार महापौर शिवराज पासवान हत्याकांड में अब तक का सबसे बड़ा खुलासा, न्यूज़ 4 नेशन सबसे पहले उन चेहरों को बेनकाब कर रहा है जिनके मौजूदगी में हत्या की पूरे साजिश को रचा गया था, बड़ी बात यह है की घटना के सीसीटीवी फुटेज में भी लाल टीशर्ट पहने हुए जो शख्स दिख रहा है वह खुद अपने कबूल नामा में कौन-कौन इस हत्याकांड को अंजाम दिया था और घटना को अंजाम देने के बाद कैसे चलती ट्रेन पकड़ कर यह आरोपी कैसे फरार हुए थे इस बात की खुलासा कर रहे हैं। इस मामले में यह बता देना बेहद जरूरी है कि पब्लिक द्वारा पकड़े गए यह चारों घटना में प्रत्यक्ष रूप से नहीं लेकिन परोक्ष रूप से शामिल  है और जिन्हें  पब्लिक ही पकड़ कर पुलिस के हवाले कर रहे हैं।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताई हत्या के समय की पूरी कहानी

मेयर की हत्या में आरोपी बनाए गए करण सिंह नाम के लड़के ने बताया कि इस हत्या की साजिश में नीरज पासवान, सन्नी श्रीवास्तव, अभिषेक महतो, अंकित चौहान,  गोल्डी, विक्की चौधरी, सूरज पासवान शामिल थे। सभी लोग पहले से वहां पहले से मेयर के आने के आने का इंतजार कर रहे थे। उसने बताया कि मेयर अक्सर वहां किसी से मिलने के लिए आते थे। जिसकी जानकारी सभी को थी। उस दिन भी मेयर जैसे ही गाड़ी से उतरे, उन पर हमला कर दिया गया। इस दौरान उन्हें पहले कट्टे से मारकर घायल किया गया और उसके बाद गोली मार दी गई। गोली अंकित चौहान ने मारी। जिसके बाद सभी वहां भाग गए। करण सिंह ने बताया कि वह पहले से मेयर को जानता था, लेकिन घटना के बाद वह डर से छिप गया। वहीं दूसरे प्रत्यक्षदर्शी सह आरोपी कुणाल की मानें तो हत्या के बाद सभी पास के रेलवे लाइन पर पहुंचे और दो लोग ट्रेन में चढ़ गए, वहीं उनके पीछे आठ दस लोग और नजर आए। कुणाल की बातों की सत्यता इस बात से भी साबित होती है कि पुलिस ने रेलवे ट्रैक से हत्या में प्रयुक्त पिस्टल जब्त किया था। 

यह है हत्या की वजह 

घटना के दौरान मौके पर मौजूद करण सिंह ने बताया मेयर शिवराज चौहान अक्सर यहां पर एक लड़की से मिलने के लिए आते थे, यहां वह बातचीत करते थे। लगभग एक माह के पहले मेयर के साथ झगड़ा हुआ था, जिसके बाद से ही सभी मेयर के साथ विवाद का बदला लेना चाहते थे। वह जानते थे कि मेयर लड़की से मिलने आएगा तो उसे ठिकाने लगा दिया जाएगा।  जिसके बाद जैसे ही मेयर वहां पहुंचे उन्होंने हमला कर दिया। अब करण सिंह की बातों को माना जाए तो कहीं न कहीं हत्या में लड़की की भूमिका संदिग्ध हो गई है। संभावना जताई जा रही है मेयर के साथ झगड़े के पीछे का कारण भी यह लड़की हो सकती है।

मेयर के भाई ने की फांसी देने की मांग

घटना में जिस तरह के आरोपियों और प्रत्यक्षदर्शियों के बयान सामने आए हैं, उसके बाद मृत मेयर शिवराज पासवान के भाई छोटू पासवान ने सभी आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि यह साबित हो गया है कि हत्या को किस बेरहमी के साथ अंजाम दिया गया है। इसके बाद पूरे शहर की मांग है कि मेयर के हत्यारों को फांसी की सजा दी जाए।

श्याम की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News