विदेशी संकट पर बड़ी बैठकः 11 बजे होगी केंद्र की सर्वदलीय बैठक, विदेश मंत्री देंगे अफगानिस्तान पर ताजा जानकारी

विदेशी संकट पर बड़ी बैठकः 11 बजे होगी केंद्र की सर्वदलीय बैठक, विदेश मंत्री देंगे अफगानिस्तान पर ताजा जानकारी

NEW DELHI: बीते कुछ वक्त से अफगानिस्तान में जो भी हो रहा है उस पर भारत चुप्पी साधे हुए हैं। ऐसा कहा जा सकता है कि भारत अभी वेट एंड वॉच की स्थिति में है। इसी बीच आज, यानी कि गुरुवार को, दिन के 11 बजे केंद्र सरकार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है, जिसमें अफगानिस्तान के संकट पर भारत सरकार अपनी रणनीति को साफ करेगा।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट के जरिए 23 अगस्त को जानकारी देते हुए कहा था कि बैठक में अफगानिस्तान में घटनाक्रम के मद्देनजर पीएम मोदी ने आदेश दिया है कि संसद के सभी राजनीतिक दलों के नेताओं को पूरी जानकारी दी। जाए उन्होंने कहा कि इस संबंध में आगे की जानकारी संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी देंगे। आज अफगानिस्तान से करीब 180 नागरिकों को मिलट्री एयरक्राफ्ट ने रेस्क्यू कर लिया है। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी की तरफ से सभी दलों को इस बैठक में शामिल होने के लिए मेल के जरिए जानकारी दी गई है और अपील की गई है कि वह इस बैठक में शामिल हो। इससे पहले अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद वहां के बिगड़ते सुरक्षा हालात को लेकर बढ़ती वैश्विक चिंता के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच मंगलवार को बातचीत हुई। दोनों नेताओं ने भारत-रूस के द्विपक्षीय संबंधों से जुड़े मुद्दों पर भी चर्चा की। 


बीते कुछ सप्ताह में तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा जमा लिया है। राजधानी काबुल समेत देश के कई प्रांतों पर तालिबान ने कब्जा जमा लिया है। 15 अगस्त को राजधानी काबुल पर तालिबान ने कब्जा जमा लिया था। उसके बाद राष्ट्रपति अशरफ गनी ने देश छोड़ दिया था। इसके बाद बड़ी संख्या में भारतीय वहां फंस गए थे, जिन्हें निकालने के लिए एयरफोर्स को सक्रिय किया गया था। अब तक भारत ने 730 लोगों को अफगानिस्तान से बाहर निकाला है। इनमें राजनयिकों के अलावा बड़ी संख्या में हिंदू और सिख समुदाय के लोग भी शामिल हैं। इसी बीच केंद्र सरकार ने कहा है कि अफगान नागरिकों को केवल ई-वीजा पर भारत की यात्रा करनी होगी।

Find Us on Facebook

Trending News