बिहार में भारी बारिश की वजह से उफनाईं नदियां, कई जिलों में मंडराने लगा बाढ़ का खतरा

बिहार में भारी बारिश की वजह से उफनाईं नदियां, कई जिलों में मंडराने लगा बाढ़ का खतरा

पटना : बिहार में मानसून की दस्तक के बाद से बारिश का दौर लगातार जारी है. इस बीच मौसम विभाग ने सूबे के अधिकतर जिलों में अगले 30 जून तक तक बारिश का अलर्ट जारी किया है. लगातार बारिश की वजह से बिहार की कई नदियों का जलस्तर बढ़ने लगा है. 

महानंदा उफान पर
मानसून शुरू होते ही महानंदा का जलस्तर लाल निशान के करीब पहुंचते ही निचले इलाकों में बाढ़ का पानी फैलने से लोगों में दहशत है. साल 2017 के विनाशकारी बाढ़ को याद करते हुए लोग सुरक्षित ठिकानों की तलाश में जुट गये हैं. बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों ने बताया कि इस साल बारिश अधिक हो रही है. मौसम विभाग भी सचेत कर रहा है. ऐसे में घरों के सामान, अनाज, पशुओं की सुरक्षा की चिंता है. लोग सुरक्षित ठिकानों की तलाश शुरू कर दिये हैं.

गंगा और कोसी नदी भी उफान पर

गंगा, कोसी और बरंडी नदी के जलस्तर में शनिवार को भी वृद्धि दर्ज की गयी. बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल के अनुसार, गंगा नदी के रामायणपुर में शुक्रवार की शाम 24.33 मीटर दर्ज किया गया, जो शनिवार की सुबह बढ़ कर 24.39 मीटर हो गया. इसी नदी के काढ़ागोला घाट पर जलस्तर 27.35 मीटर दर्ज किया गया था, जो बढ़ कर 12 घंटे बाद शनिवार की सुबह 27.39 मीटर हो गया. बरंडी नदी का जलस्तर एनएच-31 के डूमर पर शुक्रवार की शाम 27.86 मीटर दर्ज किया गया. जबकि, शनिवार की सबेरे बढ़ कर 27.92 मीटर हो गया. कोसी नदी का जलस्तर कुरसेला रेलवे ब्रिज पर शुक्रवार की शाम 27.05 मीटर था, जो शनिवार की सुबह बढ़कर 27.15 मीटर हो गया.

Find Us on Facebook

Trending News