ममता के लिए रणनीति बना रहे प्रशांत किशोर की कंपनी का दावा! भाजपा जीतेगी चुनाव, टीएमसी बोली-फेक है

ममता के लिए रणनीति बना रहे प्रशांत किशोर की कंपनी का दावा! भाजपा जीतेगी चुनाव, टीएमसी बोली-फेक है

DESK : पश्चिम बंगाल चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियों के बीच घमासान तेज हो गया है. वहां प्रधानमन्त्री के लेकर भाजपा के बड़े नेताओं की अन्धाधुंध रैलियाँ हो रही है. वहीँ सत्तारूढ़ टीएमसी अपनी कुर्सी बचाने के लिए जोर आजमाइश कर रही है. इस तरह बंगाल की राजनीति पूरी तरह गरमाई हुई है. इसी बीच तृणमूल कांग्रेस के लिए काम कर रहे चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की कंपनी I-PAC का एक सर्वे सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है. इस सर्वे में भाजपा की जीत का दावा किया जा रहा है. भाजपा समर्थक इस रिपोर्ट को शेयर कर किशोर और टीएमसी पर निशाना साध रहे हैं. 

इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि टीएमसी चीफ ममता बनर्जी नंदीग्राम सीट हारने वाली हैं. लीक हुए सर्वे में दूसरे चरण की 30 सीटों का सर्वेक्षण किया गया है. इसमें कहा गया है कि 30 सीटों में भाजपा 23 पर जीत हासिल करेगा और टीएमसी के खाते में सिर्फ 5 सीटें ही आएंगी. हालांकि इसपर TMC का कहना है कि भाजपा ‘नंदीग्राम में’ बड़े अंतर से हार रही है इसलिए ‘फर्जी रिपोर्ट’ वायरल कर रही है. रिपोर्ट को फेक बताते हुए 29 मार्च को तृणमूल कॉन्ग्रेस ने एक ट्वीट किया और लिखा “बीजेपी ‘नंदीग्राम में बहुत बुरी तरह हार रही है. हार को देखते हुए भाजपा ने वही किए जिसके लिए वे जाने जाते हैं. फर्जी खबरें फैलाना. यह सर्वे फेक है और इसकी भाजपा के नेताओं की तरह कोई कोई क्रेडीबिलिटी नहीं है. ऐसी फर्जी रिपोर्ट फैला कर कुछ नहीं होने वाला.”

उधर बंगाल चुनाव को लेकर प्रशांत किशोर ने कहा था कि बीजेपी बंगाल चुनाव में 5 रणनीतियों पर काम कर रही है. किशोर ने कहा कि बीजेपी का पहला काम ध्रुवीकरण करना है.  दूसरी रणनीति ममता बनर्जी की छवि खराब करना है, लोगों में उनको लेकर गुस्सा पैदा करना है. तीसरी रणनीति  बीजेपी ये साबित करना चाहती है कि टीएमसी एक दल के तौर पर वैंटिलेटर पर है. चौथी रणनीति चुनाव में दलित वोटरों को अपनी तरफ करना है. सबसे आखिरी रणनीति बीजेपी का मास्टर स्ट्रोक है और वह है मोदी की लोकप्रियता को भुनाना. 

हालाँकि टीएमसी इस सर्वे को पूरी तरह फेक मानती है. पार्टी का मानना है की भाजपा चुनाव में इस तरह के हथकंडे अपनाती है. इसी कड़ी में इस फेक सर्वे को वायरल किया जा रहा है. 

Find Us on Facebook

Trending News