भाजपा एमएलसी ने सुशासन पर उठाया सवाल, कहा बिहार के जेल में बनती है अपराध की योजना

भाजपा एमएलसी ने सुशासन पर उठाया सवाल, कहा बिहार के जेल में बनती है अपराध की योजना

PATNA : पूर्व केन्द्रीय मंत्री और भाजपा के विधान पार्षद संजय पासवान ने एक बार फिर राज्य के सुशासन की सरकार पर सवाल खड़ा किया है। उन्होंने कहा की बिहार की जेलों से अपराध हो रहे हैं और किडनैपिंग भी हो रही है। पटना में आयोजित एक कार्यक्रम में संजय पासवान ने कहा की जेल मूल रूप से सुधार गृह हुआ करते हैं। लेकिन बिहार में जेल सुधार गृह के बजाय अपराधी बनाने की फैक्ट्री हो गयी है। 

उन्होंने कहा की इसके लिए विधान परिषद् की एक कमिटी बनाने का आग्रह किया। ताकि जेलों में सुधार किया जा सके। यह भारत सरकार और नीति आयोग की प्राथमिकता है की जेलों में कैसे सुधार हो। संजय पासवान ने कहा की जेल में मासूम लोग जाते हैं। हालाँकि कुछ दोषी लोग जाते है। लेकिन ज्यादातर मासूम लोग ही जेल जाते हैं। लेकिन बाद में वे अपराधी बनकर निकलते हैं। इसके लिए सामाजिक और सरकार के स्तर पर प्रयास किया जा रहा है की किस तरह जेल को सुधार गृह बनाया जा सके। 

भाजपा एमएलसी ने कहा की बिहार में तीन तरह के जेल हैं। सेन्ट्रल जेल, स्टेट जेल और ओपन जेल है। ओपन जेल बक्सर में हैं। जहाँ दिनभर कैदी बाहर काम करने के बाद वापस जेल में चले आते हैं। हालाँकि जेल में खर्चा भी बहुत हैं, लूट भी है। अब सबका प्रयास है की बिहार में कैसे जेल मॉडल बन सके। उन्होंने कहा की इसी देश में लक्षद्वीप ऐसा जेल है, जहाँ एक भी कैदी नहीं हैं। लेकिन तिहाड़ में 100 की जगह 170 कैदी बंद हैं।


Find Us on Facebook

Trending News