केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने जलजमाव के कारण फैलने वाली रोगों की रोकथाम के लिए 6 केंद्रीय एजेंसियों को उतारा, पटना में राहत कार्य शुरू

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने जलजमाव के कारण फैलने वाली रोगों की रोकथाम के लिए 6 केंद्रीय एजेंसियों को उतारा, पटना में राहत कार्य शुरू

PATNA: बिहार खासकर पटना में भारी बारिश, बाढ़ और जलजमाव के दौरान और उपरांत फैलने वाले रोगों के रोकथाम के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने विशेष पहल करते हुए केंद्र सरकार की जांच एजेंसियों संगठनों को काम में लगाया है। एनसीडीसी, आईसीएमआर, ऐम्स, आरएमआरआई, आरओएच & एफडब्ल्यू के पदाधिकारियों के साथ आज इस संबंध में अश्विनी चौबे ने महत्वपूर्ण बैठक कर बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पूरी तत्परता से तुरंत काम करने का निर्देश दिया है।

आईसीएमआर और एनसीडीसी की केंद्रीय टीम पटना में आ चुकी है जबकि आरएमआरआई की टीम ने 2 दिन पहले से ही अपना काम शुरू कर दिया है। एम्स के डॉक्टरों की टीम विभिन्न क्षेत्रों में इस दिशा में अपना काम करना शुरू कर देगी जबकि केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का क्षेत्रीय कार्यालय बिहार के स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ मिलकर काम कर रही है। सीजीएचएस के 6 अस्पतालों में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के निर्देश पर बाढ़ से प्रभावित सभी स्थानीय लोगों का इलाज निशुल्क हो रहा है।

आज पटना में प्राप्त हुई उच्च स्तरीय बैठक में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने इन एजेंसियों के पदाधिकारियों के साथ हुई बैठक में बाढ़  और इसके बाद की स्थिति में स्वास्थ्य संबंधी सहायता के लिए समीक्षा किया और जरूरी निर्देश दिया।बैठक के बाद अश्विनी चौबे ने बताया कि केंद्रीय टीम के तुरंत तैनाती के बाद जलजमाव वाले क्षेत्रों में रिपीटेड फोगिंग,जलजमाव वाले छत पर फोगिंग करना, छत के पानी को ड्रेन करना, हेलोजैन टेबलेट का वितरण, लारवा साइटल का उपयोग, पीने के पानी की उपलब्धता, क्लोरीन टेबलेट का वितरण, टेमी फोस्ट का स्प्रे, लोगों को उबला पानी पीने का निर्देश,  जरूरी दवाओं के वितरण,रोगों से रोकथाम के लिए अन्य जरूरी निर्देश और अन्य सुविधाएं उपलब्ध करने का इंतजाम किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार बिहार और पटना के लोगों के स्वास्थ्य के प्रति पूरी तरीके से सचेत है और इस पर युद्ध स्तर पर काम करने के लिए इन एजेंसियों को लगाया गया है। साथ ही दशहरा दीपावली के समय कोई दिक्कत नहीं हो इसलिए इन संगठनों के कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कर उन्हें बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों में लोगों की मदद करने के लिए तैनात किया गया है। 

आज की बैठक में पटना एम्स के डायरेक्टर डॉ प्रभात कुमार सिंह आर एम आर आई के डायरेक्टर डॉ प्रदीप दास,एनसीडीसी के ज्वाइंट डायरेक्टर डॉ राम सिंह, आईसीएमआर के कंसल्टेंट डॉक्टर विजय कुमार, आईसीएमआर एन आई एम आर के डॉक्टर हिम्मत सिंह, सीजीएचएस के सहायक निदेशक डॉ एस के पांडेय, डॉक्टर नीमा वर्मा एनसीडीसी पटना के सीएमओ डॉ मजहर हुसैन, एनसीडीसी दिल्ली के डॉक्टर रामजीत प्रसाद सहित इन एजेंसियों के डॉक्टर और साइंटिस्ट उपस्थित थे। 

Find Us on Facebook

Trending News