पूर्व-मध्य रेलवे में तैनात चीफ इंजीनियर के घर सीबीआई का छापा, नई दिल्ली, केरल समेत अन्य स्थानों पर जमीन और फ्लैट की मिली जानकारी

पूर्व-मध्य रेलवे में तैनात चीफ इंजीनियर के घर सीबीआई का छापा, नई दिल्ली, केरल समेत अन्य स्थानों पर जमीन और फ्लैट की मिली जानकारी

डेस्क... आय से अधिक संपत्ति रखे जाने के मामले में हाजीपुर स्थित पूर्व-मध्य रेलवे के जाेनल मुख्यालय में तैनात चीफ इंजीनियर के यहां सीबीआई ने छापामारी की है। छापामारी में सीबीआई को कैश के साथ अन्य महत्वपूर्ण दस्तावेज भी हाथ लगे हैं। सीबीआई की विशेष टीम की ओर से बुधवार को देर शाम तक कार्रवाई चलती रही और उनके कार्यालय समेत तमाम ठिकानों की गहन जांच की गई। 

सीबीआइ की विशेष टीम ने आय से अधिक संपत्ति मामले में हाजीपुर स्थित पूर्व-मध्य रेलवे के जोनल मुख्यालय में तैनात चीफ इंजीनियर रविश कुमार के पटना स्थित उनके ठिकानों पर छापेमारी की। इस दौरान 31 लाख कैश के अलावा गहने और कई स्थानों पर जमीन-फ्लैट के कागजात मिले हैं। बड़ी संख्या में शेयर, पॉलिसी समेत अन्य माध्यमों में निवेश के कागजात भी मिले हैं। सीबीआइ ने इस मामले में एफआइआर दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। 

सीबीआइ ने जांच में यह पाया कि चीफ इंजीनियर के पद पर रहते हुए जनवरी 2009 से अक्तूबर 2020 के बीच उन्हें वेतन के रूप में 1.04 करोड़ रुपएऔर पत्नी समेत अन्य माध्यमों से करीब 40 लाख रुपए की आय हुई। इस तरह से उनकी कुल आय 1.44 करोड़ हुई। इसमें उनके सभी तरह के खर्च के रूप में करीब 67.41 लाख रुपए की कटौती करने पर करीब 33 लाख रुपए उनकी बचत के रूप में है। लेकिन, इस अवधि में उनकी बचत 76.59 लाख से ज्यादा की है। इसके अलावा उनके पास बरामद कागजात और संपत्ति के विवरण के आधार पर रविश कुमार और उनके परिवार वालों के नाम पर 34 करोड़ से ज्यादा की चल-अचल संपत्ति मौजूद है, जो उनकी वास्तविक बचत से करीब 26.50 करोड़ ज्यादा है। 

फिलहाल सीबीआइ उनके पास से बरामद सभी कागजात की गहन छानबीन करने में जुटी है। इसके बाद इनकी अवैध संपत्ति में बढ़ोतरी होने की भी संभावना है। उनके पटना के अलावा नई दिल्ली, केरल समेत अन्य स्थानों पर जमीन और फ्लैट के बारे में जानकारी मिली है।


Find Us on Facebook

Trending News