'गडकरी' के प्रोग्राम में 'नीतीश' नहीं होंगे शामिलः सोन नदी पर बने पुल का कल होगा लोकार्पण, BJP कोटे के डिप्टी सीएम-मंत्री आमंत्रित,RJD विधायक भी रहेंगे मौजूद पर JDU को पूछा तक नहीं

'गडकरी' के प्रोग्राम में 'नीतीश' नहीं होंगे शामिलः सोन नदी पर बने पुल का कल होगा लोकार्पण, BJP कोटे के डिप्टी सीएम-मंत्री आमंत्रित,RJD विधायक भी रहेंगे मौजूद पर JDU को पूछा तक नहीं

PATNA: बिहार में सत्ताधारी गठबंधन जेडीयू-बीजेपी के रिश्तों में आई खटास का असर साफ-साफ दिख रहा है। अब तो भारत सरकार के कार्यक्रम में बिहार की सत्ताधारी दल जेडीयू की कोई पूछ नहीं रही। न सिर्फ मुख्यमंत्री बल्कि जेडीयू के विधायकों-विधान पार्षदों को भी आमंत्रित नहीं किया जा रहा। हां राजद विधायक को जरूर आमंत्रित किया गया है। बिहार में कल का दिन काफी अहम है। 14 मई को सोन नदी पर कोईलवर में तीन लेन पुल का लोकापर्ण होने वाला है। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी  वीसी के माध्यम से लोकापर्ण करेंगे। हालांकि जो जानकारी है उसके अनुसार सीएम नीतीश की पत्नी की 14 मई को पुण्य तिथि है। इस वजह से वे कार्यक्रम में शामिल होने से मना कर दिया है। 

CM नीतीश की पूछ खत्म! 

बिहार के कोईलवर में 226 करोड़ की लागत से सोन नदी पर डाउनस्ट्रीम 3-लेन पुल का लोकार्पण होना है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के द्वारा इस पुल का निर्माण किया गया है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी इस पुल का लोकार्पण करेंगे. इस मौके पर ऊर्जा मंत्री आर.के. सिंह भी मौजूद रहेंगे. जबकि सड़क परिवहन के राज्यमंत्री बीके सिंह, केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे भी विशेष तौर पर आमंत्रित हैं .इसके अलावा बिहार विधान परिषद के सभापति अवधेश नारायण सिंह दोनों डिप्टी सीएम रेणु देवी और तार किशोर प्रसाद  भी मौजूद रहेंगे। इतना ही नहीं बीजेपी कोटे से पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन, कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह, भाजपा सांसद रामकृपाल यादव, बीजेपी विधायक राघवेंद्र प्रताप सिंह, राजद विधायक किरण देवी और मनेर से राजद विधायक भाई वीरेंद्र की भी उपस्थिति होगी। 

जेडीयू तो भाजपा का बता रही कार्यक्रम 

केंद्र सरकार के कार्यक्रम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आमंत्रित नहीं करने पर जेडीयू कोटे से मंत्री अशोक चौधरी ने अजीब सा जवाब दिया। उन्होंने कहा कि वह कार्यक्रम बीजेपी का है। भाजपा के कार्यक्रम में नीतीश की तस्वीर क्यों लगेगी ? उन्होंने कहा कि भाजपा के नेताओं की ही उसमें तस्वीर है,दूसरे पार्टी के कार्यक्रम में दूसरे दल के नेताओं की तस्वीर कैसे लगेगी...।हालांकि नीतीश कैबिनेट के मंत्री इस तथ्य को या तो छुपाने में लगे थे या  फिर उन्हें जानकारी नहीं थी कि वह भाजपा का कार्यक्रम नहीं बल्कि सरकारी प्रोग्राम है। वैसे भी आमंत्रण पत्र में राजद के विधायकों का नाम है। यानि राजद विधायकों को आमंत्रित किया गया है। जिस जगह पर कार्यक्रम हो रहा वह भोजपुर जिला है। वहां से जेडीयू के विधान पार्षद राधाचरण साह हैं। लेकिन सड़क परिवहन मंत्रालय के आमंत्रण पत्र में जेडीयू एमएलसी का नाम नहीं है। वहीं बिहार बीजेपी के नेता इस पर बोलने से कतरा रहे हैं। 








Find Us on Facebook

Trending News