मसौढ़ी में अपराधियों ने पुलिस पर चलाई गोली, चार गिरफ्तार, देशी पिस्टल व कारतूस भी बरामद

मसौढ़ी में अपराधियों ने पुलिस पर चलाई गोली, चार गिरफ्तार, देशी पिस्टल व कारतूस भी बरामद

मसौढ़ी. अपराध की साजिश रचते चार अपराधी गिरफ्तार किये गये हैं। इस दौरान इन अपराधियों ने पुलिस टीम पर गोलिया भी चलाने की कोशिश की गयी। हालांकि इसमें पुलिसकर्मी को कोई नुकसान नहीं हुआ। इन अपराधियों पर कई अपराधिक मामले दर्ज हैं। रंगदारी वसूलना, डराना-धमकाना इनका मुख्य पेशा है।

धनरुआ थाना अध्यक्ष दीनानाथ सिंह को गुप्त सूचना मिली थी कि थाना क्षेत्र के सांडा रसलपुर गांव के एक बगीचे में कुछ अपराधी इक्कट्ठे होकर किसी अपराध की योजना बना रहे हैं। सूचना पर तत्वरित करवाई करते हुए थाना अध्यक्ष धनरुआ तुरंत अपने दल बल के साथ सांडा रसलपुर गांव पहुंचे। पुलिस को आता देख पांच की संख्या में रहे अपराधी अपने साथ लाये झोले को फेंक कर भागने लगे। पुलिस ने भागते हुए अपराधियों का जब पीछा किया तो उसमें से एक अपराधी ने अपने कमर से पिस्टल निकाल कर थाना अध्यक्ष के ऊपर फायरिंग कर दी। इससे थाना अध्यक्ष बाल बाल बच गए। गोली थानाअध्यक्ष के बगल से निकल गई। अपराधियों की गोली से बचने के लिए थाना अध्यक्ष को पानी भरे गड्ढे में कूदना पड़ा। जैसे ही अपराधियों ने दोबारा फयरिंग की कोशिश की तो दूसरे पुलिस कर्मियों ने उसे धर दबोचा।

पुलिस के ऊपर फायरिंग करने वाले अपराधी का नाम यीशु कुमार उर्फ रिशु राज बताया जाता है, जो कि मसौढ़ी के तारेगना दिह मोहल्ले का रहने वाला है। अपराधी के ऊपर मसौढ़ी थाना में कई मामले पूर्व से भी दर्ज हैं। पुलिस को यीशु कुमार की कई दिनों से तलाश थी। यीशु कुमार के साथ साथ पुलिस ने उसके तीन साथियों को भी घटना स्थल से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद जब यीशु कुमार की तलाशी ली गई तो उसके पास से एक देशी पिस्टल, 6 जिंदा कारतूस और एक पुलिस पर फायरिंग की गयी गोली का खोखा को भी पुलिस ने बरामद किया है। अपराधियों के द्वारा फेंके गए झोले की जब तलाशी ली गई तो उसमें से 2 किलो गांजा निकला, जिसको भी पुलिस ने जब्त कर लिया है।

गिरफ्तार अपराधियों में यीशु कुमार, यश राज, सुनील कुमार और राहुल कुमार शामिल है। उक्त सभी अपराधी मसौढ़ी थाना क्षेत्र के विभीन्न मुहल्ले के रहने वाले हैं। पुलिस की पूछताछ में ये बात सामने आई है कि सभी अपराधी पैसों के लिए काम करते हैं। इनका इस्तेमाल क्षेत्र के बालू माफिया भी अपना वर्चस्व अस्थापित करने के लिए किया करते हैं। रंगदारी वसूलना, डराना-धमकाना इनका मुख्य पेशा है। गिरफ्तार अपराधी यीशु कुमार के खिलाफ अकेले मसौढ़ी थाना में आर्म्स एक्ट के तहत कई मामले दर्ज हैं। मसौढ़ी के अभियंता मार्केट में हुए साइबर दुकानदार की हत्या में यीशु कुमार ही मुख्य आरोपी था।दुकानदार हत्या कांड में संलिप्त यीशु से पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी, जिससे कई और खुलासे हो सकते हैं।


Find Us on Facebook

Trending News