कमजोर पड़ा चक्रवाती तूफान जवाद लेकिन आंध्र प्रदेश और ओडिशा में मूसलाधार बारिश से जनजीवन प्रभावित

कमजोर पड़ा चक्रवाती तूफान जवाद लेकिन आंध्र प्रदेश और ओडिशा में मूसलाधार बारिश से जनजीवन प्रभावित


भुवनेश्वर. चक्रवाती तूफान जवाद के खतरे से आशंकित आंध्र प्रदेश और ओडिशा के लिए राहत की खबर है. समुद्र तट से टकराने के पूर्व ही चक्रवात जवाद कमजोर हो गया है. मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवात जवाद कमजोर पड़ गया है. पहले आशंका थी कि चक्रवात जब तट से टकराएगा तब हवा की रफ्तार 50 किलोमीटर प्रति घंटे से ज्यादा रहेगी लेकिन अब स्थिति ऐसी नहीं है. 

रविवार सुबह चक्रवात मात्र तीन से चार किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार तट की ओर तेजी से आगे बढ़ रहा है. विभाग का कहना है कि ऐसे में जब जवाद तट से टकराएगा तब इसके ज्यादा तबाही नहीं मचाने की संभावना है। हालांकि चक्रवाती जवाद के कारण आंध्र प्रदेश और ओडिशा के करीब एक दर्जन जिलों में मुसलाधार बारिश हो रही है. 

ओडिशा के पुरी में भी भरी बारिश हो रही है। यहाँ पहले से ही पर्यटकों को सुरक्षित स्थान पर हटा दिया गया है. स्थानीय लोगों को भी समुद्र तट से दूर सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचा दिया गया है. पुरी में फ़िलहाल हवा के साथ बारिश हो रही है लेकिन आने वाले घंटों में बारिश में कमी आने की संभावना है. सोमवार को तूफान का असर बेहद सीमित हो सकता है. 

मौसम विभाग का कहना है कि तूफान के कमजोर पड़ने से नुकसान की संभावना कम है लेकिन मौसम विभाग ने इसे लेकर अलर्ट जारी किया है। जिन क्षेत्रों पर खतरे की संभावना है वहां पहले से राहत एवम बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ की टीमें तैनात है. साथ ही इस क्षेत्र से गुजरने वाली 70 से अधिक ट्रेनों को रद्द किया जा चुका है. 

Find Us on Facebook

Trending News