डीईओ ने शहर में घूम घूम कर कोचिंग संस्थानों को कराया बंद, तीन गिरफ्तार

डीईओ ने शहर में घूम घूम कर कोचिंग संस्थानों को कराया बंद,  तीन गिरफ्तार

नालंदा: कोरोना जैसे वैश्विक महामारी के पुनः प्रसार के बाद केंद्र सरकार द्वारा गाइडलाइन जारी कर 11 अप्रैल तक सभी शिक्षण संस्थान बंद रखने का निर्देश जारी किया गया है जारी निर्देश के बावजूद शहर के धनेश्वरघाट , देकुलीघाट,भैसासुर, प्रोफेसर कॉलोनी समेत अन्य जगहों पर कोचिंग संस्थान है खुली हुई थी .

इस बात की खबर जब जिले के वरीय पदाधिकारी को लगा तो उन्होंने जिला शिक्षा पदाधिकारी को जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया. आज जिलाशिक्षा पदाधिकारी नगर थाना पुलिस की मदद से इन जगहों पर पहुंचकर कोचिंग को 11 अप्रैल तक बंद रखने का निर्देश दिया है.  इस मौके पर कई कोचिंग संचालक बंद करने को नहीं राजी हुए. जिसके बाद उन्हें पुलिस गिरफ्तार कर थाने ले गई.

 जिला शिक्षा पदाधिकारी मनोज कुमार ने बताया कि सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंन को शत-प्रतिशत पूरा करना है. शत-प्रतिशत पूरा नहीं करने वाले शिक्षण संस्थान के संचालकों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. गिरफ्तार किए गए कैरियर कोचिंग सेंटर के संचालक समेत दो अन्य संस्थान के सफाई कर्मी है. वहीं  छात्रों का कहना है कि हर वर्ष इसी इसी माह में शिक्षण संस्थान को जबरन बंद करा दिया जाता है.जिस कारण हमलोगों की पढ़ाई पूरी नहीं हो पाती है. 

जबकि कोचिंग संचालकों द्वारा शुल्क ले लिया गया है. ऐसे में अगर समय पर सलेबस पूरा नहीं होगा तो हमलोगों का भविष्य अंधकारमय हो जाएगा.

Find Us on Facebook

Trending News