बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

LATEST NEWS

बेटे के इलाज के लिए बाप नहीं जुटा पाया पैसा , नाराज बेटी ने खाई कीटनाशक, स्थिति नाजुक

बेटे के इलाज के लिए बाप नहीं जुटा पाया पैसा , नाराज बेटी ने खाई कीटनाशक, स्थिति नाजुक

गोपालगंज जिले के मांझागढ़ थाना क्षेत्र के कोइनी गांव में शनिवार की देर शाम एक 19 वर्षीय युवती ने कीटनाशक दवा का सेवन कर लिया, जिससे उसकी स्थिति गंभीर हो गई. गंभीरावस्था में उसे तत्काल ईलाज के लिए गोपालगंज सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है. मांझागढ़ थाना क्षेत्र कोइनी गांव की रहने वाली है युवती. दरअसल घटना के संदर्भ में बताया जाता है कि रविशंकर राम के बेटा अजीत कुमार को करीब एक माह पूर्व बिजली का करंट लग जाने के कारण अजीत कुमार का एक हाथ पूरी तरह से झुलस गया, जबकि शरीर के कई हिस्से भी आग की चपेट में आने से झुलस गए थे.इस घटना के बाद से अजीत कुमार का दिल्ली में इलाज चल रहा था. डॉक्टर ने उसके हाथ का ऑपरेशन करने की सलाह दी थी.

पैसा नहीं होने के कारण बहन सुमन कुमारी उसे लेकर घर पहुंच गई.  सुमन ने घर पहुंचकर अपने पिता से पैसे की व्यवस्था करने की बात कही, इस पर पिता ने पैसा नहीं होने की बात कहकर सुमन को टालना चाहा.वह इस बात से नाराज हो गई. दोनों बाप बेटी के बीच विवाद हो गया.

 ग्रामीणों ने बताया कि बहन सुमन कुमारी चाहती थी कि उसके भाई की जान बचाने के लिए कहीं से पैसे की व्यवस्था करें लेकिन पिता पैसे की व्यवस्था करने पर असमर्थ था. इससे नाराज होकर सुमन कुमारी ने कीटनाशक की दवा खा ली, जिससे वह अचेत हो गई. मांझागढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया लेकिन स्थिति को गम्भीर देखते हुए डॉक्टर ने तत्काल इलाज के लिए गोपालगंज सदर अस्पताल सदर अस्पताल रेफर कर दिया. गोपालगंज अस्पताल में सुधार ना होते देख उसे चिकित्यकों ने बेहतर इलाज के लिए गोरखपुर रेफर कर दिया. फिलहाल  पुलिस मामले की जांच कर रही है.

मांझागढ़ थाना अध्यक्ष दिनेश कुमार यादव ने बताया कि मामले को लेकर पुलिस जांच कर रही है और आसपास के लोगों से भी घटना की जानकारी ले रही है.  फर्दबयान दर्ज करने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

Suggested News