कोरोना काल में दिवंगत शिक्षक और शिक्षकेतर कर्मियों का शिक्षा विभाग ने लिया संज्ञान, पढ़िए पूरी खबर

कोरोना काल में दिवंगत शिक्षक और शिक्षकेतर कर्मियों का शिक्षा विभाग ने लिया संज्ञान, पढ़िए पूरी खबर

PATNA : प्राथमिक से लेकर उच्चतर माध्यमिक तक  के कुल 760 शिक्षक, पुस्तकालयाध्यक्ष एवं शिक्षकेतर कर्मी के मृत्यु पर शिक्षा विभाग ने संज्ञान लिया है.आज अपर मुख्य सचिव शिक्षा विभाग बिहार सरकार पटना ने  बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रतिनिधि मनोज कुमार, कार्यकारी अध्यक्ष बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ  को बुलाकर कोरोना काल में मृत शिक्षकों की सूची के साथ तलब किया. उनके बुलावे पर कुमार अपर मुख्य सचिव शिक्षा विभाग से मिलने सचिवालय स्थित उनके कार्यालय कक्ष में गए. यहां सौहार्दपूर्ण  ढंग से वार्ता हुई. 

इस मौके पर अपर मुख्य सचिव शिक्षा विभाग बिहार ने इ पी एफ योजना के मुख्य पदाधिकारी राजेश कुमार से दूरभाष पर बात किया और बताया कि जिन शिक्षकों का एक माह का भी इ पी एफ योजना में कटौती हुई है. उन्हें ढाई लाख रुपए की अनुग्रह राशि, 3 माह के कटौती के बराबर सहयोग राशि एवं कम से कम ढाई हजार रुपया पारिवारिक पेंशन का लाभ दिया जाएगा. अपर मुख्य  सचिव संजय कुमार सिंह ने बताया कि शिक्षकों  को प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीनेशन करने एवं अन्य कर्मियों की भांति पारिश्रमिक देने के लिए स्वास्थ्य विभाग को  पत्र लिखा जाएगा. 

उन्होंने बताया कि प्राथमिक से लेकर उच्चतर माध्यमिक तक के  जो भी शिक्षक मृत हुए हैं. उनके आश्रितों को अविलंब प्राथमिकता के आधार पर अनुकंपा का लाभ दिया जाएगा. साथ ही साथ मृत सभी शिक्षकों  जिनका कोरोना से संबंधित पॉजिटिव रिपोर्ट है अथवा डॉक्टर ने मृत्यु के कारण में कोरोना लिखा है. उन्हें मुख्यमंत्री राहत कोष से ₹400000 की सहयोग राशि दिलाया जाएगा. अन्य मांगों पर भी उन्होंने सहानुभूति पूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया. वार्ता के दौरान माध्यमिक शिक्षा निदेशक गिरवर दयाल सिंह एवं उप  निदेशक माध्यमिक शिक्षा अमित कुमार उपस्थित थे.

Find Us on Facebook

Trending News