छठ घाट के निरीक्षण के दौरान आज भी CM नीतीश की कार हादसे का शिकार होती-होती बची, मचा हड़कंप

छठ घाट के निरीक्षण के दौरान आज भी CM नीतीश की कार हादसे का शिकार होती-होती बची, मचा हड़कंप

पटना. सीएम नीतीश आज स्टीमर के बजाय कार से छठ घाटों का निरीक्षण के लिए निकले थे। बताया जा रहा है कि उनकी कार हादसे का शिकार होते-होते बची है। मिली जानकारी के अनुसार पाटीपुल घाट भ्रमण कर घाट से गंगा सेतु पथ पर जाने के लिए चढ़ान पर सीएम की गाड़ी चढ़ते ही धीमी हो गई। कार पीछे की तरफ लुढ़कते-लुढ़कते बची। इसे देखकर मुख्यमंत्री के सुरक्षाकर्मी सहित पुलिस के जवान दौड़ पड़े। चढ़ान पर किसी तरह से मुख्यमंत्री की गाड़ी चढ़ पायी।

इससे पहले आज सीएम नीतीश ने गंगा नदी में स्टीमर से छठ घाटों की निरीक्षण के बजाय गाड़ी से ही छठ घाटों की तैयारी का जायजा लेने निकले। स्टीमर से तौबा करने पीछे 15 तारीख की घटना है, जब गंगा नदी में जेपी सेतु के पाए से स्टीमर टकरा गया था। उसमें सीएम चोटिल हो गये थे। यही वजह है कि नीतीश कुमार ने इस बार अपना निर्णय बदल लिया और गाड़ी से ही छठ घाटों का निरीक्षण किया। अब तक सीएम गंगा नदी में स्टीमर पर सवार होकर दीघा घाट से गायघाट तक के छठ घाटों की तैयारी का जायजा लेते थे।

दरअसल, 15 अक्टूबर को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उस समय बाल-बाल बच गए थे, जब वे अपने सहयोगी मंत्री और अन्य पदाधिकारियों के साथ छठ घाट का निरीक्षण कर रहे थे। सीएम की बोट जेपी सेतु के एक पिलर से टकरा गई। पिलर से टकराने से स्टीमर को भी क्षति पहुंची। स्टीमर में सवार सभी लोग अचानक हिल गये। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पेट में चोट लगी थी। वहीं उनके साथ मौजूद कई पदाधिकारी भी चोटिल हुए थे। पिलर से टकराने के बाद स्टीमर में खराबी आ गई थी। इसके बाद साथ चल रहे दूसरे स्टीमर से नीतीश कुमार और उनके साथ चल रहे अन्य लोग सवाल हुए थे।

Find Us on Facebook

Trending News