अमित शाह के आगामी बिहार दौरे पर पहली बार सीएम नीतीश ने दिया बड़ा बयान, जानिए क्या क्या कहा

अमित शाह के आगामी बिहार दौरे पर पहली बार सीएम नीतीश ने दिया बड़ा बयान, जानिए क्या क्या कहा

पटना. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के 11 अक्टूबर के बिहार दौरे को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार ने कहा कि सब लोग को आने का अधिकार है. जो आना चाहेगा उसे क्या कीजिएगा. जेपी के जगह को हमने कितने बेहतर तरीके से बनवाया है यह भी उन्हें जाकर पता करना चाहिए. दरअसल, केंद्रीय गृह मंत्री 11 अक्टूबर को जयप्रकाश नारायण की जयंती पर छपरा में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे. वे सिताबदियारा जाएंगे. इसी को लेकर जब सीएम नीतीश से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि सबको आने का अधिकार है, और वे आएं. हालांकि उन्होंने शाह के एक पखवाड़े के भीतर दूसरी बार हो रहे बिहार दौरे पर कुछ भी नहीं कहा. 

वहीं प्रशांत किशोर की ओर से बापू की जयंती पर शुरू की गई राजनीतिक बदलाव यात्रा पर मुख्यमंत्री ने कहा सबकी अपनी इच्छा है. हमको उससे कोई मतलब नहीं है. प्रशांत किशोर पूरे राज्य का दौरा करने के लिए निकले हैं. इसे प्रशांत किशोर की भविष्य की राजनीति के लिए अपने संगठन की जड़ों को राज्य में मजबूत करने की दिशा के रूप में देखा जा रहा है. शाह के दौरा भी राजनीतिक कारणों से महत्वपूर्ण है. बिहार में सत्ता से बाहर होने के बाद भाजपा को मजबूत करने के लिए शाह पिछले महीने भी 23 और 24 सितम्बर को सीमांचल के पूर्णिया और किशनगंज गए थे. उन्होंने नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला था. अब उनका जेपी की जयंती पर सिताबदियारा जाना भी भाजपा की रणनीति के रूप में देखा जा रहा है. हालांकि नीतीश कुमार उनके दौरे पर कुछ भी विशेष टीका टिप्पणी नहीं कर रहे हैं. 


इसके पहले नीतीश कुमार गांधी मैदान में महात्मा गांधी जयंती पर बापू की प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए. उन्होंने कहा कि गांधी मैदान में जो इतनी बड़ी प्रतिमा बनाई गई है. गांधी मैदान में महात्मा गांधी की पहले एक छोटी प्रतिमा थी, जिसे बदलकर हमने इतना बड़ा भव्य बनावाया है. उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी के बातों को मानकर हम जीवन में चल रहे हैं. 


Find Us on Facebook

Trending News