बागमती नदी में अर्घ्य देने के बाद चार युवक डूबे, तीन की बची जान, 30 घंटे बाद भी एक को नहीं खोज पायी एसडीआरएफ की टीम

बागमती नदी में अर्घ्य देने के बाद चार युवक डूबे, तीन की बची जान, 30 घंटे बाद भी एक को नहीं खोज पायी एसडीआरएफ की टीम

SITAMARHI : छठ घाट घूमने के दौरान डूबे युवक का 30 घंटे बाद भी शव नही मिला है। घटना रुन्नीसैदपुर थाना क्षेत्र के इब्राहिमपुर गांव की है। जहां बागमती नदी के उपधारा में बने छठ घाट पर सोमवार को उगते सूर्य को अर्घ्य देने के बाद युवक डूबकर लापता हो गया है। 


स्थानीय गोताखोर के अलावे एसडीआरएफ की टीम लगातार पिछले 30 घंटे से युवक के शव की तलाश कर रही है। लेकिन अबतक उसका शव नही मिला हैं। मिली जानकारी के अनुसार डूबने से लापता युवक अपने दोस्तों के साथ नदी भोरवा घाट के दौरान नदी में स्नान करने लगा। इस दौरान चार युवक डूबने लगे। 

शोर गुल होने के बाद तीन युवकों को सुरक्षित निकाल लिया गया। लेकिन एक युवक अबतक लापता है। घटना के बाद स्थानीय छठ घाट पर लोगों की खुशी में मायूसी छा गई। वही मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया है। 

मृतक की पहचान इब्राहिमपुर गांव निवासी नवल सिंह के 28 वर्षीय पुत्र चंदन कुमार के रूप में की गई है। कल से ही लगातार स्थानीय ग्रामीण और गोताखोर के सहारे शव को खोजने का प्रयास किया जा रहा है। घटना की सूचना पर पहुंची एसडीआरएफ की टीम पूरे दिन शव की तलाशते रही।

सीतामढ़ी से अविनाश की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News