CM नीतीश का 'निश्चय' हुआ धड़ाम, बिना पानी भरे ही 'औंधे' मुंह गिर गया सुशासन का ड्रीम प्रोजेक्ट

CM नीतीश का 'निश्चय' हुआ धड़ाम, बिना पानी भरे ही 'औंधे' मुंह गिर गया सुशासन का ड्रीम प्रोजेक्ट

PATNA: बिहार के सीएम नीतीश कुमार का निश्चय अनिश्चय में बदल गया है। यूं कहें कि मुख्यमंत्री का सपना बिहार में पूरी तरह से धाराशायी हो गई है। अब तक सैकड़ों ऐसे मामले आ चुके हैं कि मोटर ऑन करते ही पानी की टंकी धड़ाम...... और इसी के साथ मुख्यमंत्री के सात-निश्चय की हकीकत सबके सामने आ जा रही।ताजा मामला गया का है.  

गया जिले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की हर घर नल जल योजना के तहत लगी पानी टंकी उद्धाटन से पहले ही धाराशाई होकर गिर पड़ी। घटना गुरुआ प्रखंड क्षेत्र के पलुहारा पंचायत की वार्ड संख्या 13 वैदा गांव की है. खबर मुताबिक, गुरुआ प्रखंड के पलुहारा पंचायत के वार्ड संख्या तेरह वैदा गांव में नल जल योजना के तहत घर-घर पानी की सप्लाई शुरू होने से पहले ही लोहे की बनाई गई मीनार गिरकर ध्वस्त हो गई। लोहे के पोल से बनी जल-मीनार जमीन पर गिरकर क्षतिग्रस्त हो गई।

 जानकारी के अनुसार वैदा गांव में करीब सोलह लाख रुपये से वार्ड सदस्य एवं वार्ड क्रियान्वयन प्रबंधन समिति ने एक वर्ष पूर्व से नल योजना के तहत पानी टंकी का निर्माण कार्य शुरू कराया था। योजना के तहत निर्माण प्रक्रिया पूरी होने के बाद रविवार को घर घर शुद्ध पानी की सप्लाई करने के लिए मोटर चालू कर पानी की टंकी भरी जा रही थी लेकिन इस बीच लोहे की मीनार टंकी की पानी का लोड सह नहीं पाया और पानी भरते ही लोहे की मीनार टूट कर जमीन पर गिर पड़ी। 

लोहे की मीनार एवं पानी टंकी क्षतिग्रस्त होने से ग्रामीणों में गहरा आक्रोश है। पंचायत समिति सदस्य का आरोप है कि वार्ड सदस्य एवं वार्ड क्रियान्वयन प्रबंधन समिति ने पानी टंकी बनाने के लिए घटिया किस्म का लोहे के पोल का इस्तेमाल किया था। इसके कारण लोहे की मीनार एवं पानी टंकी जमीन पर गिर गई। इस संबंध में गुरुआ के बीडीओ अरुण कुमार ने बताया कि इसकी जांच कराई जाएगी और पानी टंकी का निर्माण करने वालो के विरुद्ध करवाई की जाएगी।

Find Us on Facebook

Trending News