बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

गाद की समस्या का केंद्र सरकार करे निदान तभी होगा बिहार में बाढ़ से बचाव, नीतीश के मंत्री का बड़ा बयान

गाद की समस्या का केंद्र सरकार करे निदान तभी होगा बिहार में बाढ़ से बचाव, नीतीश के मंत्री का बड़ा बयान

भागलपुर. बिहार सरकार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने गोपालपुर के जहान्वी चौक पर तटबंध के निरीक्षण के क्रम में कहा कि जाह्नवी चौक से इस्माइलपुर तक जेएसबी सड़क का निर्माण कराया जाएगा. मंत्री ने कहा कि लोग वैकल्पिक रास्ते के रूप में उक्त सड़क का प्रयोग करेंगे. विभागीय पदाधिकारियों को भी आवागमन में सुगमता होगी. जानकारी मिली है कि जाह्नवी चौक से इस्माइलपुर तक बांध निर्माण हो जाने से तटवर्ती इलाके के लोगों को काफी सहूलियत हुई है. कल तक जो इलाका बाढ़ ग्रस्त था, आज उस इलाके में सब्जियों की खेती हो रही है. उन्होंने जेएसबी कार्य के लिये मुख्य अभियंता को तत्काल प्राक्कलन बना कर भेजने का निर्देश दिया. 

मंत्री ने बताया कि गंगा नदी में गाद के कारण प्रतिवर्ष बाढ की त्रासदी झेलना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि गंगा नदी में फरक्का बराज के अधिकांश फाटकों के बंद रहने के कारण गाद की समस्या गंभीर बन गयी है. लेकिन केन्द्र सरकार इस पर गंभीर नहीं है. जबकि कई बार केन्द्र सरकार को इस समस्या के समाधान के लिये कहा गया. केंद्र सरकार को इस समस्या को गंभीरता से लेना चाहिए, क्योंकि गाद के कारण एक बड़ा भूभाग बाढ़ और कटाव की त्रासदी से जूझ रहा है. मंत्री ने कहा कि नवगछिया अनुमंडल को बाढ व कटाव से निजात दिलाने हेतु गंगा व कोसी नदी के सभी संवेदनशील स्थानों पर कटाव निरोधक कार्य करवाया जायेंगे. उन्होंने रंगरा चौक प्रखंड के तिनटंगा दियारा स्थित ज्ञानी दास टोला को कटाव से बचाने हेतु कार्य करवाये जायेंगे. 

अपने निरीक्षण के क्रम में झा ने पदाधिकारियों से भौगौलिक नक्शे के माध्यम से गंगा और उसके तटों की पूरी जानकारी ली. मौके पर अभियंताओं ने होने वाले कटाव निरोधी कार्यों और सफल कटाव निरोधी कार्यों से भी मंत्री को अवगत कराया. मंत्री ने अभियंताओं को आवश्यक निर्देश भी दिया. मंत्री ने कहा कि अभियंता और विभाग के लोग दिन रात मेहनत करते हैं, जिसके बाद उन्हें सफलता मिलती है तो उनका धन्यवाद भी किया जाना चाहिये. मौके पर जिला पार्षद विपिन कुमार मंडल समेत कई वरीय पदाधिकारियों की मौजूदगी देखी गयी.


Suggested News