लता मंगेशकर की याद में किन्नरों ने जलाये कैंडल, कहा दीदी एक थी एक ही रह गयी

लता मंगेशकर की याद में किन्नरों ने जलाये कैंडल, कहा दीदी एक थी एक ही रह गयी

SAMASTIPUR : भारत रत्न से सम्मानित स्वर कोकिला लता मंगेशकर का आज 92 साल की उम्र में निधन हो गया। दशकों तक देश ही नहीं दूसरे देशों के लोगों के दिलों में अपनी गायकी से राज करनेवाली लता मंगेशकर के निधन के बाद उनके प्रशंसकों के बीच शोक की लहर दौड़ गयी है। जगह जगह उन्हें श्रद्धांजली दी जा रही है। 

इसी कड़ी में समस्तीपुर में अनोखा तरीके से किन्नर समाज स्वर कोकिला लता दीदी को श्रद्धांजलि अर्पित किया। इस दौरान ढोल बजाकर नाचते गाते कैंडल जलाकर 2 मिनट का मौन रखकर उनकी आत्मा शांति के लिए प्रार्थना किया गया। इसके बाद किन्नरों ने बताया कि यह देश के अपूरणीय क्षति है। जिसकी भरपाई कोई नहीं कर सकता है। 

उन्होंने कहा की दीदी एक थी और एक ही रह गई। उनके चले जाने से देश में शोक का माहौल व्याप्त है। इस दौरान किन्नर समाज की दिल्ली से आई हुई गुंजा, रवीना, आजी, रजिया गुरु, सपना, सुमन, आरती, पूनम, नंदनी और मुस्कान सहित दर्जनों किन्नर मौजूद रहे। 


समस्तीपुर से संजीव कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News